website counter widget

Indore Video viral :  इस तरह हुआ विस्फोट और ढह गई विशाल इमारत  

0

इंदौर में अतिक्रमण और अवैध कब्जे वाले व ज़र्ज़र मकानों को हटाने को लेकर मानो नगर निगम ने कमर कस ली है| वह किसी भी कीमत पर शहर से अवैध मकानों को दूर करना चाहता है | पहले नगर निगम का अमला गंजी कम्पाउंड स्थित ज़र्जर मकान को तोड़ने गई थी तो विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 3 के विधायक आकाश विजयवर्गीय ने निगम के अधिकारी को बैट मारकर इस विवाद को राष्ट्रीय बना दिया था| बाद में जीतू पटवारी के क्षेत्र में 500 मकानों को तोड़ा गया | अब नगर निगम की एक और कार्रवाई का वीडियो (Indore Kalp Kamdhenu Nagar Four Stoery Hostel Collapsed Video ) वायरल हो रहा है |

Video : मंच से जीतू पटवारी ने कहा, मुझे अंग्रेजी नहीं आती

दरअसल, इंदौर के कल्प कामधेनु नगर में ग्रीन बेल्ट की जमीन पर अवैध रूप से बनाए गए चार मंजिला हॉस्टल को निगम ने जमींदोज कर दिया। निगम के दल ने पहले पिलर में विस्फोटक भरा और फिर एक साथ धमाका किया। महज 7 सेकंड में चार मंजिला इमारत धराशायी हो गई। इसके पहले सात पिलर में तीन किलो बारूद से धमाका कर इमारत को कमजोर किया गया था।

Indore Kalp Kamdhenu Nagar Four Stoery Hostel Collapsed Video :

56 दुकान से खाना आर्डर करने के लिए MOBILE APP तैयार 

निगम अधिकारियों ने बताया कि जिस इमारत को जमींदोज किया गया है, उसे बिल्डर ने एक साल में तैयार किया था। इसके लिए उसने नाले को दो बड़े पाइप डालकर बंद किया, फिर दो हिस्सों में भवन बना दिया था। एक्सप्लोसिव एक्सपर्ट शरद सरवटे ने बताया कि बिल्डिंग के बेसमेंट और ऊपर की दो मंजिलों में दीवारें गिराकर पिलर में ड्रिलिंग कर 300 छेद किए गए। सोमवार को बिल्डिंग का स्ट्रक्चर कमजोर करने के लिए सिर्फ बेसमेंट के सात पिलर में 45 छेदों में 3 किलो एक्सप्लोसिव भरकर ब्लास्ट किया गया।

कार्यपालन यंत्री ओपी गोयल व भवन अधिकारी दौलत सिंह गुंडिया ने बताया कि सात महीने में बिल्डर को अवैध निर्माण रोकने के 15 नोटिस दिए जा चुके थे। मामला हाईकोर्ट में भी गया था, लेकिन बिल्डर को राहत नहीं मिली। निगम अफसरों का कहना है कि आसपास ग्रीन बेल्ट पर बने अन्य मकानों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

सड़क हादसे में SDO, उनकी पत्नी तथा दोनों बच्चों की मौत

कार्रवाई के दौरान एसडीएम सोहन कनाश, निगम उपायुक्त महेंद्रसिंह चौहान मौजूद थे। पहले निगमकर्मियों ने पोकलेन, जेसीबी और हथौड़े चलाकर दो मंजिलों तक दीवारें गिराईं। रिमूवल की कार्रवाई के दौरान एक कर्मचारी यूसुफ खान मलबा गिरने से घायल हो गया।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.