website counter widget

गलतबयानी का उठाना पड़ सकता है गंभीर खामियाजा

0

इंदौर (Indore News) में एक बिल्डर के बेटे को विवादित बयान (Disputed Statement) देना भारी पड़ गया| उसके बयान से शहर में उसके खिलाफ विरोध के स्वर तेज़ होने लगे हैं| एक तरफ बयान और दूसरी तरफ उस बयान के खिलाफ शिकायत का मुद्दा अब उसके लिए परेशानी का सबब बन सकता है।दरअसल, शहर के जाने-माने बिल्डरों में से एक मधु झंवर के बेटे श्रेयस झंवर ( Madhu Zanwar Son Shreyas Zanwarको उनके उलजलूल बयान का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है| प्राप्त जानकारी के अनुसार, श्रेयस ने कल पूल पार्टी में पानी के अन्दर अपने साथियों के साथ मस्ती-मस्ती में विवादित बयान (Shreyas Jhawar Controversial Statement On Sindhi Community) दे दिया| वह विवादित बयान सिंधी समाज को गले नहीं उतरा और विरोध के स्वर सामने आ गए।

कस्टडी में मौत, महिला टीआई तत्काल सस्पेंड

कल श्रेयस झंवर का पूल पार्टी का वीडियो जारी हुआ (Shreyas Jhawar Controversial Statement On Sindhi Community), जिसमें श्रेयस झंवर ने कहा, “प्रगति विहार बनाने वाले संघवी परिवार के पास खूब पैसा है, वे सक्षम हैं, वे कोई भी गलत काम नहीं करेंगे जबकि शंकर लालवानी ने इंदौर विकास प्राधिकरण में अध्यक्ष रहते हुए पैसे की खूब दलाली की है और इस दलाली का पैसा सीधे-सीधे तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के पास पहुंचाया|”उन्होंने कहा, “मैं शंकर लालवानी की असलियत बताना चाहता हूं, लालवानी आईडीए से पैसा इकट्ठा करते थे और वे इस तरह के सिंधी दलाल थे, जो सरकार के लिए काम करते थे, सिंधी दलालों को छोड़कर कांग्रेस को वोट दे क्योंकि संघवी परिवार का पेट भरा हुआ है और केंद्र में भी कांग्रेस की सरकार आएगी|”

महापौर ने लगाई फटकार तो लाइन पर आया ठेकेदार  

इस वीडियो में एक नहीं तीन बार श्रेयस ने पंकज संघवी को वोट और समर्थन देने  की बात की और आखिरी में यह भी कह दिया, “इन सिंधियों को मारो गोली“ (Shreyas Jhawar Controversial Statement On Sindhi Community)|इस बयान के बाद भाजपा और सिंधी समाज से जुड़े एडव्होकेट पंकज वाधवानी निवासी राधा नगर ने अब इस मामले में एसएसपी सहित अन्य जगह शिकायत की है और इस शिकायत में लिखा, “श्रेयस का वीडियो वायरल होने के बाद सिंधी समाज अपने आपको अपमानित महसूस कर रहा है।“ कल देर रात से ही यह वीडियो चला और आज सुबह से सिंधी समाजजन का विरोध शुरू हो गया।एडव्होकेट पंकज वाधवानी ने शिकायत में कहा कि श्रेयस झंवर ने आपत्तिजनक और अनर्गल कथन किए और वीडियो के अंत में ‘सिंधियों को गोली मारो’ कहकर वीडियो समाप्त किया जबकि आचार संहिता लागू है। ऐसे में उक्त युवक द्वारा समाज से शत्रुता का भाव वीडियो में कृत्य किया है और सामाजिक सोहार्द्र को बिगाड़ा है इसलिए वाधवानी ने धारा 188 और 153-ए आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग की।

अनोखे तरीके से देते हैं वारदात को अंजाम

इधर, झंवर से जुड़े लोगों का कहना है कि श्रेयस का गोली मारने का मतलब वोट देने को गोली मारने से था यानी शंकर लालवानी को छोड़ो और पंकज संघवी को वोट दो|प्रदेश कांग्रेस सचिव विवेक खंडेलवाल और प्रवक्ता गिरिश जोशी ने पहले ही पाकिस्तान से आए सिंधी समाजजन की नागरिकता का मुद्दा उठा रखा है। खंडेलवाल और जोशी ने साफ कहा था कि लालवानी ने सुमित्रा महाजन के माध्यम से गलत तरीके से नागरिकता कराई और इंदौर के तत्कालीन कलेक्टरों पर अलग-अलग समय दबाव बनाए थे। ऐसा लगता है कि कांग्रेस के कुछ नेता और अन्य अब इस सिंधी समाज के मुद्दे को चुनाव में हवा देने में लग गए हैं, जिसका सिंधी समाज ने विरोध भी शुरू कर दिया है।

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.