इंदौर की महापौर ने पेश किया लोकलुभावन बजट

0

इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ ने आज अपने कार्यकाल का अंतिम बजट पेश किया। इस बजट को लोकलुभावन बजट बताया जा रहा है| इसका प्रमुख कारण दिसंबर 2019 या जनवरी 2020 में होने वाले नगर निगम चुनाव को बताया जा रहा है | चुनाव के मद्देनज़र ही इंदौर नगर निगम के बजट (Indore Nagar Nigam Budget 2019) में जनता पर कोई भार नहीं डाला गया है। वैसे इस बजट में जनता को कोई बड़ी सौगात भी नहीं दी गई है। जनता मालिनी गौड़ (Malini Gaur) से खुश रहे और वोटर भाजपा के समर्थन में रहें, इसी कारण इस बजट में न तो कोई नया कर लगाया गया है और न ही किसी कर की दर में वृद्धि की गई है।

Video : इंदौर में कैलाश विजयवर्गीय की आक्रोश रैली में घायल हुए विधायक

इस बजट (Indore Nagar Nigam Budget 2019) में इंदौर नगर निगम द्वारा हाल ही में एमआर-3, एमआर-5, एमआर-9, एमआर-11 और आरई-2 के रूप में मास्टर प्लान की सड़कों के निर्माण की पहल की गई है। 20 किमी की ये सड़कें 180 करोड़ की लागत से बनेगी। इन सड़कों के निर्माण के लिए 5 वर्ष का शॉर्ट टर्म लोन लिया जाएगा। यह लोन नागरिकों से वसूल किए जाने वाले बेटरमेन्ट चार्ज से चुकाया जाएगा। इसके लिए बजट में 100 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

बजट में महू नाका चौराहा पर ग्रेड सेपरेटर का निर्माण करने का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही शहर में दो नए बस स्टैंड बनाने, लोन लेकर मास्टर प्लान की सड़कों का निर्माण करने का प्रावधान किया गया है| निगम के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ग्रीन बांड जारी कर 500 करोड़ रुपए का लोन जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। नगर निगम के द्वारा शहर में पांच पेट्रोल पम्प खोले जाएंगे। निगम ने बजट (Indore Nagar Nigam Budget 2019) में अपने पुराने कामों पर ही फोकस किया है।

कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में दिखाया अपना जलवा

इंदौर नगर निगम के बजट (Indore Nagar Nigam Budget 2019) में कहा गया है कि स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत राजवाड़ा और मुख्य बाजार क्षेत्रों का समग्र विकास किया जा रहा है। शहर के पश्चिम क्षेत्र के विभिन्न मुख्य मार्ग महूनाका चौराहा पर आकर मिलते हैं, इस स्थान पर 6 मुख्य मार्ग लालबाग मार्ग, केसरबाग रोड, अन्नपूर्णा मार्ग, लक्ष्मणसिंह गौड़ मार्ग, बियाबानी मार्ग और एमओजी लाइन मार्ग के आकर मिलने के कारण यातायात का दबाव रहता है। यातायात सर्वेक्षण के पश्चात तकनीकी विशेषज्ञों के द्वारा इस स्थान पर ग्रेड सेपरेटर के निर्माण की आवश्यकता बताई गई है।

स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत इस ग्रेड सेपरेटर का निर्माण किया जाएगा। इसकी लागत 50 करोड़ रुपए है। शहर के बस स्टैंड पर यात्रियों के लिए पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं, इसे देखते हुए दो नए इंटर स्टेट बस स्टैंड बनाए जाएंगे। इसमें से एक बस स्टैंड से इंदौर से 100 किमी के दायरे में आने वाले स्थानों की बसें चलेंगी, जबकि दूसरे बस स्टैंड से प्रादेशिक स्तर की बसों का संचालन किया जाएगा। यह बस स्टैंड मुंडला नायता और कुमेड़ी में बनाए जाएंगे। इसके अलावा सरवटे, गंगवाल, नवलखा, तीन इमली और विजय नगर बस स्टैंड को सुविधाजनक बनाया जाएगा।

किसानों के समर्थन में इंदौर में बड़ी रैली, 1000 ट्रैक्टर होंगे शामिल

देश में पहली बार इंदौर नगर निगम के द्वारा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से बॉन्ड जारी कर राशि जुटाई गई है। अब नर्मदा परियोजना के लिए 100 मेगावॉट क्षमता का सोलर एनर्जी प्लांट लगाने की पहल की जा रही है। इसके लिए लंदन स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बॉन्ड जारी कर 500 करोड़ रुपए जुटाए जाएंगे। इस प्लांट के बन जाने से नगर निगम को हर वर्ष बिजली की 18 करोड़ रुपए की बचत होगी।

नगर निगम द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए इस वर्ष निगम के हर झोनल कार्यालय को एक-एक रथ दिया जाएगा। अभी निगम द्वारा पंचवटी रथ का संचालन किया जा रहा है। इसके माध्यम से शहर के सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे। वह कार्य चाहे उद्यान के विकास हो या फिर सेंट्रल वर्ज में हरियाली बढ़ाने और आकर्षक पौधे लगाने का हो।

इस बजट भाषण में यह कहा गया है कि शहर में यदि कोई भी व्यक्ति नया मकान-दुकान का निर्माण करता है तो वहां वाटर रिचार्जिंग करवाना उसकी जिम्मेदारी है। सभी भवन अधिकारी और भवन निरीक्षक यह सुनिश्चित करें कि किसी भी बिल्डिंग की पूर्णता का प्रमाण पत्र देने के पूर्व वाटर रिचार्जिंग किया या नहीं यह सत्यापित कर लें अन्यथा जमीन मालिक के साथ अधिकारियों पर भी दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

महापौर मालिनी गौड़ (Malini Gaur) ने अपने भाषण में इंदौर की क्लासिक पूर्णिमा कॉलोनी का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इस कॉलोनी से न तो कचरा निकलता है और न ही कॉलोनी के रहवासी निगम को कचरा परिवहन का शुल्क देते हैं। इस कॉलोनी में शत-प्रतिशत कचरे का कॉलोनी के रहवासियों के द्वारा ही निपटान कर लिया जाता है। यह अपने आप में आदर्श कॉलोनी है। अन्य कॉलोनियों को भी इससे प्रेरणा लेना चाहिए। हम अब नागरिकों को इस बात के लिए प्रेरित कर रहे हैं कि वे अपने घर के सूखे कचरे को कम से कम करें और गीले कचरे से खाद बनाएं, इससे वे कचरे के माध्यम से भी कमाई कर सकेंगे।

अपने बजट भाषण में महापौर मालिनी गौड़ (Malini Gaur) के द्वारा बार-बार अपने पति स्व. लक्ष्मणसिंह गौड़ के नाम और उनके विचार का जिक्र करते हुए उसके अनुसार स्वयं के द्वारा काम किए जाने का ब्यौरा दिया ।

एक नज़र बजट के मुख्य प्रावधानों पर

  • बच्चों के खेलकूद गतिविधियों के लिए 115 करोड़ का प्रावधान
  • शासकीय स्कूलों के उन्नयन पर खर्च होंगे 55 करोड़
  • शहर में 20 पुल-पुलियाओं का निर्माण जारी है जिसे छह माह में 50 करोड़ खर्च कर पूर्ण किया जाएगा
  • गोंदवले धाम के पास बनेगी नई पानी की टंकी
  • 80 टंकियों पर कंट्रोल वॉल्व और फ्लो मीटर लगाएंगे
  • 1100 किमी पानी पहुंचाने की लाइन डाली जाएगी
  • पानी के काम पर 51 करोड़ खर्च करेंगे
  • सीवरेज के कामों पर खर्च होंगे 481 करोड़
  • यातायात का दबाव घटाने के लिए 45 करोड़ खर्च किए जाएंगे
  • प्रधानमंत्री आवास योजना में गरीबों के मकान के लिए 556 करोड़ का प्रावधान
  • शहर के मार्गों पर एलईडी लाइट लगाने पर खर्च करेंगे 70 करोड़
  • निगम के वर्कशॉप को उन्नत करने पर खर्च होंगे 48 करोड़
  • शहर में पांच स्थानों पर निगम खोलेगा पेट्रोल पम्प
  • लालबाग पैलेस के विकास पर खर्च करेंगे 15 करोड़
  • शहर के बीच के नाले को नदी में परिवर्तित करने के लिए 2 और एसटीपी प्लांट लगाएंगे
  • जल पुनर्भरण के कार्य हेतु 90 लाख का प्रावधान
Share.