Video : आकाश विजयवर्गीय की जमानत याचिका दोबारा खारिज

0

इंदौर नगर निगम अधिकारियों को क्रिकेट बैट से पीटने वाले भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय  (Kailash Vijayvargiya) के बेटे आकाश विजयवर्गीय ( Akash Vijayvargiya Bail Rejects) की जमानत याचिका इंदौर सेशन कोर्ट (District Court Indore) ने खारिज कर दी है। जिला कोर्ट ने उन्हें 11 जुलाई तक के लिए जेल भेजा है। कहा जा रहा है कि विधायक होने के कारण उनकी याचिका में अब भोपाल में सुनवाई होगी। मतलब अभी आकाश को जेल में ही रहना होगा। जेल में विधायक आकाश को बैरक नंबर 6 में दो अन्य लोगों के साथ रखा गया है। यहां रात में उन्हें हल्का बुखार आने की शिकायत की, जिसके बाद जेल में ही उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया था।

Video : जेल में आया आकाश विजयवर्गीय को बुखार

VIDEO : आकाश विजयवर्गीय के बाद बदतमीजी पर उतरे कैलाश! कहा….

बिलकुल ठीक है आकाश

विधायक आकाश विजयवर्गीय की रिहाई की मांग को लेकर गुरुवार सुबह से ही जेल के बाहर भाजपा समर्थकों का हुजूम उमड़ पड़ा। यहां पर कमलनाथ सरकार, पुलिस और निगम अधिकारियों के लिखाफ समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की। दोपहर में आकाश के छोटे भाई कल्पेश विजयवर्गीय उनसे मिलने जेल पहुंचे। उनके मिलकर बाहर आए कल्पेश ने कहा कि वे खाना लेकर यहां आए थे। भाई बिल्कुल स्वस्थ्य हैं।

Video : विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटा

निगम कर्मियों को मिला आप का साथ

आम आदमी पार्टी भी निगम कर्मचारियों के बचाव में उतर आई। आप कार्यकर्ता क्रिकेट किट लेकर निगम कर्मचारियों के पास पहुंचे और उन्हें किट भेंट की। उन्होंने कहा कि विधायक द्वारा बैट से नगर निगम कर्मचारी की पिटाई की गई। जब भी अधिकारी अब इस प्रकार की कार्रवाई के लिए जाएं तो अपने बचाव के लिए क्रिकेट किट का इस्तेमाल जरूर करें। ऐसा करने से वे इस प्रकार की अप्रिय घटना से खुद को बचा पाएंगे।

कांग्रेस का प्रदर्शन

टावर चौराहे पर पुतला दहन करने पहुंचे कांग्रेसियों का आरोप है कि पिछली बार जब निगम अधिकारियों के साथ हाथापाई हुई थी, तब भी महापौर ने कोई बयान नहीं दिया। इस बार भी वे मूकदर्शक बनी हुई हैं। कांग्रेसियों ने जब पुतला दहन करने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हें रोका। वहीँ आज निगम के कर्मचारियों ने भी जमकर हंगामा किया।

Share.