MP Crime News : बदमाशों ने मूंछ, कान और सिर के बाल उखाड़ दिए

0

इंदौर और आसपास के क्षेत्रों में अपराध के मामलों में लगातार इजाफा होता जा रहा है| सरकारी आंकड़े भी इस बात की सत्यता साबित करते हैं| अब एक बार फिर अपराध का एक बड़ा मामला सामने आ रही है, जिसमें अपराधियों का बेरहम चेहरा नज़र आया | दरअसल, देवास जिले के 12 बदमाशों ने एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता को बंधक बनाया (Congress Leader Jaswant Singh Dangi Kidnapped) और उनसे मानवीयता के परे व्यवहार किया| बदमाशों ने उनके साथ लट्ठ व डंडों से बुरी तरह मारपीट कर उनकी मूंछ, कान और सिर के बाल उखाड़ दिए| यह सुनकर उनके दर्द की अधिकता का अंदाज़ा लगाया जा सकता है|  

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सोनकच्छ में हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamal nath) के कार्यक्रम से लौट रहे दांगी समाज के 70 वर्षीय समाजसेवी और देवास के कांग्रेस नेता जसवंत सिंह दांगी को शाम 6 बजे सम्माखेड़ी गांव में टोंकखुर्द के 12 से ज्यादा बदमाशों ने चार घंटे तक बंधक बनाए रखा था। फिर उन्हें चौराहे पर ले जाकर पीटा, उनकी मूंछ, कान और सिर के बाल उखाड़कर प्रताड़ित किया। बाद में पुलिस की डायल 100 के सामने छोड़कर भाग गए। इस दौरान जसवंत ने पुलिस जवानों से आरोपियों के फोटो लेने व उन्हें गिरफ्तार करने के लिए भी कहा, लेकिन जवानों का कहना था कि हम बाद में देख लेंगे। घटना मंगलवार की है। जसवंत फिलहाल इंदौर (Indore Crime News In Hindi) में निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हैं।

“तुम्हारा काम हो गया हो तो छोड़ दो” (Congress Leader Jaswant Singh Dangi Kidnapped)

बदमाश कंजर गिरोह के बताए जा रहे हैं| बेटे नरेंद्र सिंह दांगी का आरोप है कि सम्माखेड़ी गांव के टीआई अमित सोलंकी की बदमाशों से सांठ-गांठ थी। टीआई को अपहरण के बाद पता था कि उन्हें कौन लोग ले गए हैं, लेकिन फिर भी पुलिस 4 घंटे तक उन तक नहीं पहुंची । बेटे नरेंद्र ने बताया कि घायल पिता ने बताया कि जब वे अपहरणकर्ताओं के चंगुल में थे, तभी टीआई अमित सोलंकी का फोन और कुछ पुलिस कर्मियों के फोन बदमाश गिरोह के पास आए थे| वे कह रहे थे कि एसपी का हम पर दबाव है। घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को लगी है। तुम्हारा काम हो गया हो तो वापस छोड़ दो। इसके बाद बदमाश उन्हें घायल हालत में पुलिस की डायल 100 वैन के पास छोड़ भागे। पुलिस वालों ने इसके बाद भी न कोई एक्शन लिया और न ही उनके फोटो लिए|

दांगी समाज के प्रदेश अध्यक्ष रवि दांगी ने कहा, “ ये घटना काफी गंभीर है। घायल के बयानों के आधार पर देवास पुलिस की बदमाशों से सांठ-गांठ स्पष्ट करती है कि पुलिस बदमाशों से मिली हुई थी। ऐसे में संबंधित टीआई को सस्पेंड किया जाना चाहिए साथ ही उन सभी पुलिसकर्मियों के फोन काल डिटेल भी निकाली जानी चाहिए, जिनका बदमाशों से संपर्क था। इसके विरोध में पूरा दांगी समाज एसपी देवास को ज्ञापन सौंपने देवास पहुंचा।

गौरतलब है कि प्रदेश में नई सरकार के गठन के बाद से दो महीनों (नवंबर 2018 से जनवरी 2019) में 12 हजार से ज्यादा अपराध हुए, जो हत्या, लूट और महिला अत्याचार से जुड़े हैं। इनमें इंदौर हत्या और अन्य अपराध की वारदातों में मप्र में अव्वल (Indore No 1 In Crime) है। वर्ष 2018 में इंदौर में 21, ग्वालियर में 16, सागर में 14 और भोपाल में 15 ह्त्या के मामले दर्ज किए गए हैं|

Sandeep Agrawal Murder Case : संदीप तेल हत्याकांड का साजिशकर्ता इंदौर पहुंचा

MP News : मध्यप्रदेश पुलिस विभाग में फिर तबादला

Indore News : वैध होगी इंदौर शहर की अवैध कॉलोनियां

अंकुर उपाध्याय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.