कस्टडी में मौत, महिला टीआई तत्काल सस्पेंड

0

मध्यप्रदेश के इंदौर (Indore Crime News In Hindi) में चोरी के एक मामले में पूछताछ के लिए लाए गए आरोपी की मंगलवार को कस्टडी के दौरान गांधीनगर थाने के लॉकअप में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मंगलवार को चोरी की शंका के चलते एक युवक को हिरासत में लिया गया था और फिर उसकी जमकर पिटाई की गई। मार के चलते युवक की तबीयत अचानक इतनी बिगड़ गई कि उसने दम ही तोड़ दिया। इस घटना के सामने आते ही एडीजी ने महिला टीआई को तत्काल सस्पेंड कर ज्यूडिशियल जांच बैठा दी है।

इन दो पर्यटन स्थलों से निगम लेगा पानी

घटना के बाद से ही शहर में सनसनी फैली हुई है। वही घटना के बाद अधिकारियों में भी हड़कंप मचा हुआ है।इस मामले में मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों पर भी गाज गिरने की संभावना जताई जा रही है, क्योंकि परिजनों ने उन पर हत्या का आरोप लगाया है।मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार दोपहर 2 बजे पुलिसकर्मी राजेश, शिव, सुनील रघुवंशी, इंदरसिंह राठौर व महिला सिपाही मान ने पेशे से मिस्त्री संजू को चोरी की शंका के चलते गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे थाने में हाथ पैर बांध जमकर पीटा और उससे पूछा कि तूने चोरी की। इस दौरान बेटे के पीछे-पीछे थाने पहुंची मां नंदीबाई (60) को भी चांटे मारे और बंद कर दिया। लगातार मार से संजू की देर शाम हालत बिगड़ गई तो पुलिसकर्मी उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन इससे पहले ही उसने दम तोड़ दिया। बताते हैं कि आरोपी संजू को गांधी नगर पुलिस ने पूर्व में अरिहंत नगर में हुई एक चोरी के प्रकरण में अप्रैल माह में भी पकड़ा था। आज वाहन चोरी के मामले में उसे लेकर आए थे। इसके बाद मामला सामने आते ही एसएसपी ने गांधीनगर टीआई नीता देअरवाल को सस्पेंड कर दिया।

रालामंडल में प्रशासन करेगा विशेष इंतज़ाम

बताया जा रहा है कि इंदरसिंह व तीन पुलिसकर्मी 22 वर्षीय संजू पिता हिंदूसिंह निवासी इंजलाय नैनोद मल्टी के पास गांधीनगर को मृत अवस्था में एमवाय अस्पताल लेकर पहुंचे। कुछ देर बाद अफसर पहुंचे और कहा कि संजू की थाने में पूछताछ के दौरान तबीयत बिगड़ गई। कुछ देर बाद संजू के परिजन थाने पहुंच गए और टीआई नीता देअरवाल व 4 पुलिसकर्मियों पर हत्या का आरोप लगाया। इसके बाद  एडीजी ने महिला टीआई को तत्काल सस्पेंड कर ज्यूडिशियल जांच बैठा दी है।

कस्टडी में मौत होने के कारण एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने तत्काल कलेक्टर को सूचना देकर न्यायिक जांच के लिए मांग की। सूत्रों की माने तो जिस संजू नामक आरोपी को संदेह के आधार पर गांधीनगर पुलिस के जवानों ने पकड़ा था, उन्होंने सिर्फ टीआई को ही मामले की जानकारी दी थी। इसके बाद थाने लाकर उससे काफी सख्ती से पूछताछ की गई। यही नहीं मृतक संजू की मां को भी पुलिस जवान थाने उठा लाए थे, उनसे भी सख्ती से पूछताछ की गई थी। लेकिन इस पूरे मामले में एसपी सूरज वर्मा को कोई सूचना तक नहीं थी। वहीं सीएसपी और एएसपी को थाने वालों ने बीपी अधिक बढ़ने से मौत होना बताकर मामले को टालने की भी कोशिश की थी। इस मामले में टीआई देअरवाल ने कोई भी जवाब देने से इनकार कर दिया। वहीं, एसपी सूरज वर्मा भी जवाब देने से बचते रहे।

महापौर ने लगाई फटकार तो लाइन पर आया ठेकेदार   

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.