इंदौर में बन रहा भव्य मंदिर…

0

इंदौर के निपानिया बायपास पर संगमरमर से श्वेतांबर जैन समाज के 8वें तीर्थकर चंद्रपभ भगवान के पहले मंदिर ने आकार लिया। इस मंदिर में कई खासियत है। मंदिर में दिव्यांगों और बुजुर्गों को मंदिर में प्रवेश में परेशानी न हो, इसलिए 20 फीट ऊंचाई तक जाने और साढ़े फीट चौड़े दो रैंप बनाए गए हैं। मंदिर करीब 1 करोड़ रुपए में बनकर तैयार हुआ है।

मंदिर की दीवारों पर जैन धर्म के विभिन्न रंगों को कारीगरों ने उकेरा है, जो आकर्षण का केद्र हैं। मंदिर का निर्मण चार हजार वर्गफीट में किया गया है। इसकी लंबाई करीब 89 फीट और चौड़ाई 45 फीट है। ज़मीन से गुंबद की ऊंचाई 58 फीट है। मंदिर की मूल वेदी पर तीर्थंकर चंद्रपभ की संगमरमर की प्रतिमा विराजित की जाएगी। पास की वेदी पर शीतलनाथजी और सुमतिनाथजी होंदे। इसके साथ भगवान महावीर स्वामी की पंचधातु, पार्श्वनाथ, मणिभद्र, नाकोड़ाजी और देवी लक्ष्मी, सरस्वती, पदमावती सहित करीब 15 मूर्तियां होंगी। गर्भगृह का द्वार साढ़े नौ फीट ऊंचाई का लगाया जा रहा है। वहीं दीवारों पर सूर्य, कलश, गुंबद, फूल-पत्ते और देवी-देवताओं के चित्र उकेरे गए हैं।

मंदिर के सामने ही तीन हजार वर्गफीट में रत्नाश्रयी आराधन भवन बनाया गया है। इसकी पहली मंजिल पर प्रवचन हॉल, दूसरे पर संत निवास बनाए गए हैं। इसके साथ ही तीसरी मंजिल पर गुरु भगवंतों को रहने के लिए पांच कमरे हैं। यहां संतों के प्रवचन के साथ विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान होंगे।

कुशाग्र

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.