भूख हड़ताल पर बैठी महिला

0

हाल ही में मध्यप्रदेश के इंदौर शहर से भाजपा के विधायक आकाश विजयवर्गीय एक नगर निगम अधिकारी को बैट से मारने के मामले में गिरफ्तार हुए थे। आकाश विजयवर्गीय के समर्थन में कहीं कोई धरना दे रहा है, तो कोई आत्मदाह करने पहुंच रहा है। मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा था कि एक और नया घटनाक्रम सामने आ गया। दरसअसल, बीती शाम रीगल तिराहा पर एक महिला विजयवर्गीय के समर्थन में (Woman Hunger Strike For Akash Vijayvargiya) बैठी थी।

महिला ने बातचीत में बताया की वह  विधायक आकाश विजयवर्गीय के समर्थन में भूख हड़ताल पर बैठी है। महिला बिना किसी की अनुमति के भूख हड़ताल पर बैठ गई थी । यह जानकारी जैसे ही भाजपा नेताओं को लगी तो वे तत्काल भागे और इस महिला को भूख हड़ताल से उठवाया।

Video : Kailash Vijayvargiya का अधिकारी ने किया बचाव

महिला की ज़िद थी कि जब तक आकाश जेल से नहीं छूटेंगे तब तक वो अन्न, जल ग्रहण नहीं करेंगी और भूख हड़ताल (Woman Hunger Strike For Akash Vijayvargiya) पर बैठी रहेंगी। इस भूख हड़ताल की जानकारी बहुत जल्द लोगों में फैलने लगी, थोड़ी ही देर में यह बात सामने आई कि यह महिला विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 3 के अन्तर्गत आने वाले 284, मराठी मोहल्ला में रहने वाली रेखा सेन है।

Video : नगर निगम अधिकारी की पिटाई का कारण बना मकान कल टूटेगा

भाजपा नेताओं को जैसे ही इस  बात की जानकारी मिली, तो उन्होंने महिला की  पूरी जानकारी निकाली कि वह कहां से है और वह कब से  रीगल चौराहे पर बैठी (Woman Hunger Strike For Akash Vijayvargiya) है। जब सारी जानकारी निकलवाई तो मालूम पड़ा कि यह महिला शाम से रीगल चौराहे पर स्थित पुलिस कंट्रोल रूम के सामने भूख हड़ताल पर बैठी है।

नेताओं द्वारा निकाली गई जानकारी में यह मालूम किया गया कि क्या महिला ने भूख हड़ताल पर बैठने के लिए कोई अनुमति प्राप्त की थी। तब यह सामने आया कि महिला बिना किसी  अनुमति के ही भूख हड़ताल पर बैठी है। इस पर भाजपा के नेता घबराए और तुरंत ही भागे और महिला को समझा बुझाकर भूख हड़ताल पर से उठाया। भाजपा के नेताओं पर तनाव था कि ऐसा न हो जाए महिला को वहां  बैठा देख लोग उसके आस -पास भीड़ लगा ले और कोई नई  दिक्कत सामने आ जाए।  इस झंझट को निपटाने में भी नेताओं को पसीने आ गए।

निगमकर्मियों ने मेरे सीने पर भी हाथ मारा : पीड़ित महिला 

 

Share.