इंदौर में शव यात्रा से दिया कोरोना से बचाव का संदेश

0

इन दिनो देश-दुनिया में क़ोरोना वायरस (Rescue From Coronavirus By Wearing Mask) का भय बना हुआ है। ऐसे में इंदौर (Indore) में एक अनूठी शवयात्रा निकली। इस शव यात्रा में लोग मास्क लगाकर इकठ्ठा हुए और कोरोना से बचाव का संदेश दिया। शव यात्रा में शामिल ये सभी लोग इतवारिया बाज़ार स्थित धन्नालाल जी पाटोदी की शव यात्रा में शामिल हुए। धन्नालाल जी इंदौर से पूर्व विधायक रतनलाल पटौदी के छोटे भाई थे। दरअसल भारत सरकार ने बढ़ते हुए कोरोना वायरस के खतरे को लेकर गाईडलाइन जारी की है जिसके मुताबिक़ किसी स्थान पर 50 से ज्यादा लोगों के एकत्र होने की मनाही है। इतना ही नहीं इस वायरस (Coronavirus India) के खतरे को देखते हुए स्कूलों, कॉलेजों, शॉपिंग मॉल्स, पार्क और थियेटरों को बंद कर दिया गया है। साथ ही कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से कार्य करने यानी वर्क फ्रॉम होम की अनुमति प्रदान की है। हालांकि शादी समारोह को इससे बाहर रखा गया है लेकिन सरकार ने आग्रह किया है कि यदि हो सके तो शादी समारोह को आगे बढ़ा दिया जाए। ऐसे में इंदौर (Indore News) शहर के पूर्व विधायक रतनलाल पटौदी के छोटे भाई धन्नालाल जी के निधन पर काफी लोग शव यात्रा में जुटे थे। इन सभी की सुरक्षा का जिम्मा पाटोदी परिवार का था जिसे उन्होंने बखूबी निभाया और सभी के लिए एक मिसाल प्रस्तुत की।

स्पेन से लौटे स्टूडेंट ने सरकारी सेंटर की वयवस्थाओं की पोल खोल दी

चूंकि अभी कोरोना वायरस (Coronavirus Outbreak) के चलते एक स्थान पर ज्यादा लोगों के इकठ्ठा होने पर प्रतिबंध है ऐसे में परिवार ने अपना फ़र्ज़ निभाते हुए शव यात्रा (Rescue From Coronavirus By Wearing Mask) में शामिल लोगों को मास्क उपलब्ध करवाए और अपना फ़र्ज़ निभाया। शव यात्रा में शामिल सभी लोगों ने यहां मास्क लगाकर आम लोगों को भी इस भयावह बीमारी (Coronavirus Pandemic)  से बचाव का संदेश दिया। शहर में यह अपने आप में एक अनूठी शवयात्रा थी जिसने न सिर्फ अपना बचाव किया बल्कि लोगों को जागरूक करने का भी कार्य किया। इस संबंध में धन्नादादा के भतीजे और सुमठा वाले पाटोदी परिवार के नकुल पाटोदी ने कहा कि इतवारिया बाज़ार स्थित स्वर्गीय रतन लाल जी पाटोदी, पूर्व विधायक के छोटे भाई धन्नालाल जी पाटोदी जी का आज सुबह निधन हो गया था। चूंकि देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में जानलेवा वायरस फैला हुआ है। इसकी वजह से मप्र सरकार व भारत सरकार की गाईडलाईन, बीस से ज्यादा व्यक्ति एक जगह इक्ट्ठे ना हों, इसको ध्यान मे रखते हुए हमारे स्वजन, मित्र, परिवार जन हमारे संस्कार के अनुरूप चाचाजी धन्नालाल जी पाटोदी के निधन पर इक्ट्ठा होने वाले थे।

इस दवा से ख़त्म होगा Coronavirus!

किसी को भी कोई परेशानी (Coronavirus Reaches Delhi) न हो इसका धयान रखना पाटोदी परिवार का फर्ज था। इसलिए परिवार ने यह तय किया कि शवयात्रा मे शामिल होने वाले प्रत्येक व्यक्ति को  मास्क पहन (Rescue From Coronavirus By Wearing Mask) कर आना होगा। जो मास्क पहनकर नहीं आए उन्हे निज निवास पर मास्क उपलब्ध कराए गए ताकि सभी सुरखित रहें और साथ में लोगों को भी जागरूकता का संदेश दे सकें। परिवार ने यह अनूठा कार्य विश्व में फैल रही महामारी के लिए जागरूकता का संदेश देने के लिए किया है। उन्होंने आगे कहा कि धन्नादादा के नाम से पहचाने जाने वाले उनके चाचा प्रसिद्ध समाजसेवी, स्वास्थ प्रेमी व कुश्ती प्रेमी थे। आगे जानकारी देते हुए उन्होंने कहा दादा का उठावना दिनांक 20 मार्च 20520 को प्रात: 9:30 बजे निज निवास पर रहेगा। उन्होंने इसमें शामिल होने वाले समाजजनों से मास्क पहनकर आने की अपील की है।

अमेरिका ने तैयार की Coronavirus की दवा, आज से ट्रायल शुरू

Prabhat Jain

Share.