गजट नोटिफिकेशन जारी, Indore Airport हुआ अंतरराष्ट्रीय

0

स्वच्छता में लगातार तीसरी बार नंबर वन बने इंदौर में स्थित देवी अहिल्या बाई होलकर एयरपोर्ट को वैसे तो मार्च में ही इंटरनेशनल करने का समाचार आ चुका था, लेकिन अब इसे  औपचारिक तौर पर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Indore Airport Declared International Airport) का दर्जा मिल गया है। दरअसल, इस संबंध में केंद्र सरकार द्वारा आज गजट नोटिफिकेशन ( Gazette Notification) जारी कर दिया गया है। गजट नोटिफिकेशन में इंदौर एयरपोर्ट स्थित अप्रवासन जांच चौकी के लिए सिविल प्राधिकारी की नियुक्ति की सूचना दी गई है।

Indore Crime : 5 बेटियों के साथ चार साल से कर रहा था दुष्कर्म

इंदौरवासियों के लिए आज का दिन खुशखबरी लेकर आया है| अब यहां से यात्री अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा (Indore Gets International Airport Status) भी कर सकेंगे। इंदौर का देवी अहिल्याबाई होलकर हवाई अड्डा अब अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित किया जा चुका है| इसके साथ ही अप्रैल में इंदौर से शारजाह के लिए सीधी विमान सेवा की संभावना बढ़ गई है|

कस्टम एक्ट 1962 और रेगुलेशन 2009 के मुताबिक, इंदौर एयरपोर्ट को अधिसूचित (Indore Airport Declared International Airport) किया गया है| सेशन 8 (ए) के अंतर्गत इंटरनेशनल टर्मिनल बिल्डिंग और एयरपोर्ट एपरॉन एरिया को कस्टम एरिया के तौर चिह्नित व अधिसूचित किया गया है|

कैलाश विजयवर्गीय फिर दिखे नए रूप में

गौरतलब है कि देवी अहिल्या एयरपोर्ट को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के तौर पर मार्च माह में कस्टम विभाग ने मंजूरी दे दी है| इसकी घोषणा विभाग के इंदौर के कमिश्नर नीरव मल्लिक ने की थी।

अब अंतरराष्ट्रीय उड़ानों  के लिए कार्गो, पैसेंजर बैगेज की लोडिंग-अनलोडिंग से पहले कस्टम की नियम अनुसार जांच की जाएगी|

कुछ दिनों पहले खबर आई थी कि स्वच्छता में नंबर वन इंदौर को देश में एक और कार्य के लिए पहला स्थान (Indore Airport Declared International Airport) मिला है| दरअसल,  यात्रियों की समस्याओं को देखते हुए इंदौर विमानपत्तन प्राधिकरण ने खाने की कीमतों के दाम कम कर दिए हैं| इसके बाद इंदौर देश का पहला ऐसा एयरपोर्ट बन गया है, जहां सबसे सस्ता खाना मिलता है|

बताया जा रहा है कि मंगलवार से एयरपोर्ट पर यात्रियों और उनके परिजन के लिए 60 रुपए में थाली दिए जाने की शुरुआत की गई है| इस बारे में एयरपोर्ट डायरेक्टर अर्यमा सान्याल ने बताया, “विमानतल परिसर में यात्रियों और उन्हें छोड़ने आने वाले परिजन को उड़ान में समय होने के कारण काफी देर तक इंतज़ार करना पड़ता है|

उड़ान के समय में देरी होने के कारण नाश्ते और खाने के लिए उन्हें परेशान होना पड़ता है| महंगा खाना होने के कारण कई बार यात्री खाना खरीदते नहीं है और परेशान होते हैं इसलिए विमानतल परिसर में यह पहल की गई है|”

स्टेडियम का मज़ा आपके शहर इंदौर में

Share.