इंदौर नगर निगम में पार्षदों का हंगामा

0

इंदौर नगर निगम में आज बजट को लेकर पार्षदों की बैठक चल रही है, जिसमें बैठक से पहले ही हंगामा शुरू हो गया| बताया जा रहा है कि पार्षदों ने सरवटे बस स्टैंड क्षेत्र में इमारत गिरने के हादसे पर जमकर हंगामा किया|

पार्षदों का कहना है कि होटल हादसे में जिम्मेदार अधिकारियों पर तुरंत कार्रवाई की जानी चाहिए| जांच अधिकारी द्वारा कार्य में देरी की जा रही है| निगम के कार्यालय में यह मुद्दा सबसे पहले छोटे यादव ने उठाया| बैठक में शामिल सभी लोगों ने सभापति से सबसे पहले होटल हादसे पर चर्चा की मांग की| इसके बाद कांग्रेस पार्षदों ने नारेबाजी शुरू कर दी|

गौरतलब है कि 31 मार्च की रात को सरवटे बस स्टैंड के पास चार मंजिला होटल ‘एमएस’ धराशायी हो गई थी, जिसमें 11 लोगों की मौत और कई लोग घायल हो गए थे| इसके बाद से ही शहर में जर्जर इमारतों को लेकर सवाल उठने लगे हैं|

कांग्रेसियों से कहा कि बाहर चले जाओ

इंदौर नगर निगम के बजट सत्र में महापौर के भाषण के दौरान भी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया| महापौर की घोषणाओं के दौरान कांग्रेसी पार्षद आगे आकर अपनी बात दोहराने लगे, लेकिन इस दौरान निगम के सभापति अजयसिंह नरुका ने उन्हें रोक दिया| सभापति ने कहा कि यह शहरहित का मामला है और आपको इसमें हंगामा नहीं करना चाहिए| अगर विपक्ष के पार्षदों को कोई आपत्ति है तो वे सदन से बाहर चले जाएं|

Share.