मुख्यमंत्री और महापौर ने बजाई घंटी

0

इंदौर के लिए गुरुवार का दिन एक नई उपलब्धि लेकर आया| नगर निगम द्वारा जारी किए गए बॉन्ड की लिस्टिंग सेरेमनी गुरुवार सुबह मुंबई में हुई। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और महापौर मालिनी गौड़ ने स्टॉक एक्सचेंज में घंटी बजाकर बॉन्ड की लिस्टिंग की घोषणा की।

इसी के साथ इंदौर देश में तीसरा और एनएसई में बॉन्ड जारी करने वाला पहला शहर बन गया है। अब इंदौर नगर निगम के शेयर भी स्टॉक एक्सचेंज में नज़र आएंगे, जिससे लोग उन्हें खरीद सकेंगे| इससे पहले नई दिल्ली और हैदराबाद बीएसई के माध्यम से बॉन्ड जारी कर चुका है।

नगर निगम ने शहरी विकास की गतिविधियों में नागरिकों की आर्थिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 28 जून को 170 करोड़ रुपए के बॉन्ड जारी किए थे। पहले ही दिन इन बॉन्ड को लोगों का बेहतर प्रतिसाद मिला था| मुख्यमंत्री ने इस मौके पर ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि इंदौर नगर निगम अब विकास की नई इबारत लिख रहा है| आने वाले दिनों में प्रदेश की वाणिज्यिक राजधानी का देश में एक अलग नाम होगा|

नगर निगम ने जल वितरण, सीवरेज और शहरी परिवहन सहित अन्य सुविधाओं को विकसित करने के लिए बॉन्ड जारी किए हैं| इसके लिए केंद्र सरकार ने 324.05 करोड़ रुपए, राज्य सरकार ने 486.18 करोड़ रुपए और इंदौर नगर निगम ने 162.08 करोड़ रुपए का अंशदान किया है| आज मुख्यमंत्री और महापौर सीआईआई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे, जहां उन्होंने कई देशों के वाणिज्यिक दूतों और उद्योगपतियों से मुलाकात की| इनमें ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, इंडोनेशिया, जापान, सिंगापुर, कोरिया और रूस के वाणिज्यिक दूत शामिल थे| साथ ही शहर में 23-24  फरवरी 2019 को होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में आने का सबको निमंत्रण भी दिया गया|

इस मौके पर महापौर मालिनी गौड़ के साथ प्रदेश के नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल भी मौजूद रहे|

Share.