website counter widget

इंदौर के रेडिसन होटल में देह व्यापार का भंडाफोड़

0

स्वछता में लगातार तीन बार अव्वल रहा इंदौर (Indore) अब फिर गंदा होते जा रहा है। हनी ट्रेप (MP Honey Trap)   कई मामलों के कारण शहर पर लगा दाग अभी साफ भी नहीं हुआ था कि अब देह व्यापार के काले कारोबार का भंडाफोड़ हो गया है। इंदौर की फाइव स्टार केटेगरी की रेडिसन होटल (Radisson Blu Hotel Indore) और अन्य होटलों में बिना किसी रोक-टोक के समाज को शर्मसार करता घिनौना कृत्य किया जा रहा था। इन मामलों के सामने आने के बाद सितारा होटलों पर सवाल उठने लगे हैं।

महज दस मिनट की नीलामी में 177 करोड़ रुपये में बिकी पेंटिंग

इंदौर की सितारा होटलों की काली सच्चाई

इंदौर (Indore) के रेडिसन सहित कई अन्य नामी होटलों में आसानी से कॉलगर्ल उपलब्ध कराई जाती है। बिना किसी चेकिंग के, बिना आईडी दिखाए होटलों के कमरों में लड़कियां पहुंचाई जाती हैं। इसके बारे में खुद एक पत्रकार ने काले कारनामे को उजागर किया। उन्होने बताया कि सयाजी और रेडिसन के होटल  में बिना पड़ताल एंट्री और साथ में कॉलगर्ल भी उपलब्ध है (Radisson Blu Hotel Indore)। समूह सयाजी और रेडिसन के होटल  में बिना पड़ताल एंट्री के साथ ही कॉलगर्ल भी उपलब्ध कराई जाती है। इस काम के लिए एजेंट भी नियुक्त हैं।

दशहरे पर भगवान के नाम पर खूनी खेल, देखें Vedio

चौंकाने वाला खुलासा

पत्रकार ने खुलासा किया कि सयाजी समूह के एफोटेल और रेडिसन के होटल प्रबंधन के जैसे ही कई होटलों के भी होटल प्रबंधन इस काले व्यापार में मिले हुए हैं। सभी की मिलीभगत के कारण ये सब धडल्ले से हो रहा है और किसी को इसकी भनक तक नहीं लगती। पत्रकार ने खुद ग्राहक बनकर सारे सबूत जुटाए और होटल (Radisson Blu Hotel Indore) के कमरे में बिना किसी रोक-टोक के पैसे लेकर पहुंचा जहां पहले से लड़की मौजूद थी। वहीं इस खुलास के बाद एफोटेल और रेडिसन होटल के मैनेजमेंट की नींद उड़ गई है। वे सफाई दे रहे हैं कि ज़्यादातर बूकिंग ऑनलाइन होती है और होटल में सुरक्षा के पूरे इंतज़ाम है। रूम में जाने वालो को सीसीटीवी के जरिए चेक करते है।

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ट्रंप ने हिलेरी क्लिंटन पर कसा तंज

यह कोई पहला मामला नहीं है जब शहर के नाम होटल देह व्यापार के लिए बदनाम हुए हो। अभी हाल ही में प्रदेश कि राजनीति में जिस मामले ने भूचाल ला दिया है उस हनी ट्रेप का जाल भी ऐसे ही नामी होटलों में बिछाया गया था, जिनकी परते धीरे-धीरे खुल रही है। देवी अहिल्या की पावन नगरी बदनाम होते जा रही है। समाज शर्मसार हो रहा है। वहीं सख्त कार्रवाई के बाद भी ऐसे मामले आसानी से दबा दिये जाते हैं।

नोट :  ये खुलासे इंदौर के एक दैनिक अखबार के द्वारा किए गए हैं।हम इसकी पुष्टि नहीं करते हैं।

साभार – लोकल इंदौर

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.