Video : जेल में आया आकाश विजयवर्गीय को बुखार

0

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ( Kailash Vijayvargiya ) के बेटे और भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय ( Akash Vijayvargiya Suffering From Fever In Jail ) ने क्रिकेट के बल्ले से इंदौर नगर निगम (Indore Municipal Corporation) के अधिकारी की पिटाई की थी। इसके बाद से ही यह मामला बढ़ते जा रहा है। पिटाई के बाद विधायक खुद ही थाने पहुंचे थे। इसके बाद गिरफ्तारी और फिर उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। इंदौर जिला जेल के बैरक नंबर 6 में बंद विधायक की अब तबियत खराब होने की खबर आ रही है

VIDEO : आकाश विजयवर्गीय के बाद बदतमीजी पर उतरे कैलाश! कहा….

 विधायक का जेल में हुआ बुरा हाल ( Akash Vijayvargiya Suffering From Fever In Jail )

Akash Vijayvargiya Arrested Video : BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय का MLA बेटा गिरफ्तार

भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय ( Akash Vijayvargiya Suffering From Fever In Jail ) ने कल जमानत की मांग की थी, लेकिन उनकी याचिका ठुकरा दी गई और उनके किये के लिए 11 जुलाई तक कारावास की सज़ा सुनाई गई। अब उन्होंने जमानत के लिए नया पैंतरा अपनाया है। ऐसा कहा जा रहा है कि जेल से बाहर आने यानी जमानत के लिए ही आकाश विजयवर्गीय ने बुखार का नाटक किया है! जानकरी के अनुसार, तबियत खराब होने के बाद रात में ही उन्हें जेल के अंदर ही प्राथमिक उपचार दिया गया था। अब इसी आधार पर वे जमानत की डिमांड कर सकते हैं। घटना के बाद आकाश विजयवर्गीय ने कहा था कि ये मेरा लाइन ऑफ एक्शन है। मैं पहले आवेदन करता हूं, फिर निवेदन करता हूं उसके बाद दनादन। उन्हें अपने किये पर बिलकुल भी पछतावा नहीं था।

आकाश विजयवर्गीय ( Akash Vijayvargiya Suffering From Fever In Jail ) ने बुधवार को नगर निगम के कर्मचारियों के साथ मारपीट की थी। इस दौरान उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ था।  इस वीडियो में आकाश विजयवर्गीय बैट से निगम कर्मचारियों की पिटाई करते दिख रहे हैं। इस घटना के बाद जहां भाजपा विधायक आकाश का सपोर्ट कर रही है, वहीं कांग्रेस के कई नेता मामले को भुना रहे हैं। मामले पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ( Digvijaya Singh ) ने ट्वीट किया, “हमें भाजपा में सिखाया जाता है- पहले आवेदन, फिर निवेदन और फिर दनादन” क्या इससे स्पष्ट नहीं होता कि भाजपा को ना नियम पर, ना क़ानून पर, ना संविधान पर विश्वास है ?”

Video : विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटा

वहीँ ज्योतिरादित्य सिंधिया ( Jyotiraditya Scindia ) ने मामले की निंदा करके हुए कहा कि इंदौर में भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय द्वारा नगर-निगम के अधिकारियों के साथ मारपीट की घटना घोर निंदनीय व अक्षम्य है। लोकतंत्र में सबको विरोध करने व अपनी बात रखने का अधिकार है, पर भाजपा विधायक ने जो खुलेआम गुंडागर्दी का प्रदर्शन किया है उसने भाजपा के चरित्र की पोल खोल दी है।

Share.