शराब दुकान का विरोध, कलेक्टर से मिलीं महिलाएं

0

इंदौर के रानीबाग़ क्षेत्र में शराब दुकान हटाए जाने को लेकर रहवासियों के आंदोलन के बाद भी प्रशासन कुछ कदम नहीं उठा पा रहा है| इसके विरोध में सोमवार को बड़ी संख्या में रहवासी कलेक्टर कार्यालय प्रदर्शन करने पहुंचे| स्थानीय विधायक जीतू पटवारी और कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा के साथ बड़ी संख्या में महिलाओं ने कलेक्टर कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करते हुए नारेबाज़ी की| इस दौरान महिलाओं ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए शराब दुकान को क्षेत्र से हटाने की मांग की| बड़ी संख्या में पहुंचे रहवासियों ने कलेक्टर को शिकायत करते हुए बताया कि क्षेत्र में शराब दुकान होने से उनके बच्चों पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है|  

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने यह घोषणा की थी कि रहवासी क्षेत्रों में और स्कूल-कॉलेज के आसपास शराब दुकान नहीं खोलने दी जाएगी, लेकिन उनकी घोषणा के बावजूद यहां दुकान खोली गई| रहवासियों ने इसे लेकर कलेक्टर से जल्द कार्रवाई करने की मांग की|

वहीं क्षेत्र की महिलाओं ने बताया कि क्षेत्र में शराब दुकान होने से बच्चियों की सुरक्षा को खतरा है| परिजन अपने बच्चों को घर से बाहर भेजने में भी डरते हैं| उन्होंने मांग करते हुए कहा कि या तो सरकार शराब दुकान को क्षेत्र से विस्थापित करे या फिर उन्हें इच्छामृत्यु दे दे|

कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने शराब दुकान को लेकर सरकार पर दोगला रवैया अपनाने का आरोप लगाया| उन्होंने कहा कि एक ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री बहनों और भांजियों की सुरक्षा का दावा करते हैं और दूसरी ओर वे ही प्रदेश में शराब के व्यापार को बढ़ावा दे रहे हैं|

विधायक जीतू पटवारी भी महिलाओं के साथ इस प्रदर्शन में शामिल हुए| उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार इस दुकान को नहीं हटाती है तो आने वाले दिनों में रहवासी खुद ही दुकान को ताला लगा देंगे| उन्होंने प्रदेश में शराबबंदी करने की भी पैरवी की|

कलेक्टर ने महिलाओं और रहवासियों की शिकायत के बाद ज्ञापन लेते हुए जल्द से जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया| कलेक्टर ने कहा कि रहवासी इलाके में चल रही इस दुकान का परीक्षण करवाने के बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी|

इससे पहले रहवासियों ने रेसीडेंसी कोठी पर प्रदेश के वित्तमंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री जयंत मलैया से भी मुलाकात कर उन्हें अपनी परेशानी बताई थी| वित्तमंत्री ने भी रहवासियों को जल्द ही उचित समाधान निकालने का आश्वासन दिया|

Share.