website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

इंदौर में 121 करोड़ रूपये के बिजली बिल माफ

0

प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले सरकार ने लोगों को बिजली बिल में एक बड़ी राहत देने की कोशिश की है| सरकार के इस कदम को भले ही चुनावी कवायद से जोड़ा जा रहा हो, लेकिन कई उपभोक्ताओं को इसका फायदा मिल रहा है| इसी योजना के तहत इंदौर में भी कई उपभोक्ताओं के बिजली बिल माफ़ किए गए|

प्रदेश के राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने बुधवार को इंदौर के ब्रिलियंट कन्‍वेंशन सेंटर में ‘मुख्यमंत्री संबल योजना’ के तहत ऊर्जा विभाग के कार्यक्रम को संबोधित किया| राजस्व मंत्री ने  कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रदेश में 80 लाख विद्युत उपभोक्ता परिवार के 5 हजार करोड़ रूपये के बिजली बिल मांफ कर दिये हैं और 03 हजार करोड़ ऊर्जा विभाग को भुगतान कर दिया गया है। इसी प्रकार प्रदेश में 88 लाख विद्युत उपभोक्ता परिवार अब मात्र 200 रूपये प्रतिमाह बिजली बिल चुकाएंगे।

इंदौर जिले में 96 हजार 740 विद्युत उपभोक्ताओं के 121 करोड़ विद्युत बिल माफ किए गए और प्रतीकात्मक तौर पर कुछ उपभोक्ताओं को विद्युत माफी प्रमाण-पत्र वितरित किए गए। इसी प्रकार इंदौर जिले में अब 81 हजार 958 असंगठित पंजीकृत श्रमिक विद्युत उपभोक्ताओं को मात्र 200 रूपए प्रतिमाह विद्युत बिल का भुगतान करना होगा।

राजस्व मंत्री गुप्ता ने कहा कि राज्य शासन पिछले 5 साल से गरीबों को एक रुपए किलो गेहूं, चावल और नमक उपलब्ध करवा रहा है। उन्होंने कहा कि सन् 2022 तक राज्य और केन्द्र सरकार मिलकर प्रदेश के सभी आवासहीनों को आवास उपलब्ध करवाया जाएगा। हाल ही में शासन द्वारा एक लाख परिवारों को आवास उपलब्ध करवाया गया। राशन, आवास और बिजली बिल माफी में जाति और धर्म का किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया गया है। इसके अलावा भी गुप्ता ने कई योजनाओं का बखान करते हुए प्रदेश सरकार के कामकाज को गिनाया| उन्होंने कहा कि आगे भी गरीब और प्रदेश के सभी वर्गों के लिए सरकार बेहतर कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध है|

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.