कुत्तों ने की लालू प्रसाद यादव की नींद खराब

0

चारा घोटाला मामले में सज़ा काट रहे आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में भर्ती लालू प्रसाद अब पेइंग वार्ड में जाने की मांग कर रहे हैं। लालू ने शिकायत की है वह रात में सो नहीं पाते। लालू की शिकायत है कि रिम्स परिसर में काफी कुत्ते है, जो रात में काफी भौंकते है, जिस कारण उनकी नींद टूट जाती है। लालू यादव के करीबी भोला यादव ने कहा कि लालूजी कुत्तों के भौंकने के साथ शौचालय की बदबू से भी परेशान है। अगर उन्हें पेइंग वार्ड में शिफ्ट कर दिया जाए, तो उनका स्वास्थ्य जल्द ठीक हो सकता है। हम पेइंग वार्ड की फीस देने को भी तैयार हैं।

यहां काम करने वाले एक कर्मचारी का कहना है कि रात में यहां 15-10 कुत्ते होते हैं। कभी-कभी इनकी संख्या काफी ज्यादा होती है। अक्सर रात में एक साथ भौंकते हैं, इससे मरीज़ो को परेशानी होती है। बिल्डिंग का कैम्पस खुला हुआ है और पोस्टमार्टम हाउस के नज़दीक है। बता दें कि लालू प्रसाद यादव ने रांची की विशेष कोर्ट में गुरुवार को आत्मसमर्पण किया था। इसके बाद जज एसएस प्रसाद की अदालत ने उन्हें न्यायित हिरासत में लेते हुए बिरसा मुंडा कारागार भेजने का निर्देश दिया था। आरजेडी प्रमुख के अधिवक्ताओं मे लालू यादव को इलाज के लिए रिम्स अस्पताल में भर्ती कराने का अनुरोध किया था। जिसके बाद जेल प्रशासन ने उन्हें राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) भेज दिया।

इससे पहले अदालत ने लालू को देवघर कोषागार समेत सभी मामलों में स्वास्थ्य कारणों से दी गई अंतरिम जमानत की अवधि को आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया था। न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिंह की पीठ ने इस मामले की सुनवाई करते हुए आरजेडी के अधिवक्ताओं की अंतरिम जमानत अवधि बढ़ाने की दलील को 24 अगस्त को अस्वीकार कर दिया था। जिसके बाद अदालत ने 30 अगस्त तक आत्मसमर्पण करने का आदेश दिया था। इसी आदेश के चलते लालू यादव ने कोर्ट में आत्मसमर्पण किया।

Share.