जन्माष्टमी की धूम, पीएम-राष्ट्रपति और इन्होंने दी बधाई

2

इस वर्ष जन्माष्टमी का त्यौहार दो दिन मनाया जा रहा है| कई स्थानों पर रविवार यानी 2 सितंबर को  श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मना लिया गया वहीं कई स्थानों पर आज यह त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है| भगवान विष्णु के आठवें अवतार और माता यशोदा के लाल भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव के लिए कई बड़े आयोजन किए गए हैं| राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से लेकर कई बड़ी हस्तियों ने आज सोशल मीडिया के जरिये लोगों को शुभकामनाएं दी हैं| रविवार रात से ही मथुरा, वृंदावन, वाराणसी सहित कई बड़े मंदिरों में रौनक लगी हुई है|

ऐसे हुआ था जन्म

भगवान श्रीकृष्ण का जन्म उनके मामा कंस की जेल में हुआ| कंस को आकाशवाणी के जरिये यह पता चला था कि उनकी बहन देवकी और वासुदेव की आठवीं संतान उनकी मृत्यु का कारण बनेगी| इसलिए कंस ने देवकी और वासुदेव को कैदी बनाकर रखा था| श्रीकृष्ण के जन्म के बाद पिता वसुदेव ने उफनती यमुना को बड़ी कठिनाई से पार कर उन्हें वृंदावन पहुंचाया ताकि वे कंस से बच सकें| इसी के बाद देवकी पुत्र यशोदा और नंद के लाला कहलाए| कंस को जब यह ज्ञात हुआ कि उनकी बहन देवकी की आठवीं संतान गोकुल में है तो उन्होंने कान्हा को मारने के कई प्रयास किए| कई राक्षस-राक्षसियों को वृंदावन भेजा, लेकिन कोई भी श्रीकृष्ण को चोट तक नहीं पहुंचा सका| कहते हैं कि भगवान हमेशा अपने भक्तों की रक्षा करते हैं| आज उनके जन्मोत्सव पर पूरा देश खुशियां मना रहा है| मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ है|

इन्होंने दी शुभकामनाएं 

Janmashtami 2018: श्रीकृष्ण के जन्म के समय जैसा ही शुभ संयोग, जानिए मुहूर्त

Share.