website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

अमित शाह की रैली को कोलकाता हाईकोर्ट का इनकार

0

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रथयात्रा को अनुमति देने से कोलकाता हाईकोर्ट ने इनकार कर दिया है। शाह की रथयात्रा का शुभारंभ 7 दिसंबर को बिहार से होना था, जो पश्चिम बंगाल के 24 जिलों से गुजरने वाली थी। सांप्रदायिक तनाव की आशंका का हवाला देते हुए राज्य सरकार ने भाजपा की रैली को अनुमति नहीं दी, जिसके बाद भाजपा ने हाईकोर्ट का रुख किया था।

अब इस मामले की अगली सुनवाई 9 दिसंबर को होगी। न्यायाधीश तपव्रत चक्रवर्ती की बेंच ने इस मामले की सुनवाई की। सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने हाईकोर्ट से कहा कि भाजपा की इस यात्रा से राज्य में सांप्रदायिक तनाव फैल सकता है। इस पर भाजपा की तरफ से पेश वकील अनिंद्य मित्रा ने कोर्ट को शांतिपूर्ण तरीके से यात्रा निकालने का भरोसा  दिलाया।

हाईकोर्ट ने पूछा, यदि कोई अप्रिय घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा। हम अनुमति दे दें और कोई हादसा हो जाए तो भाजपा अध्यक्ष इसकी जिम्मेदारी लेंगे। कोर्ट ने कहा कि आप मुझे यह लिखित में दें कि यह रैली शांतिपूर्वक तरीके से होगी। इस पर बीजेपी के वकील ने कहा कि भाजपा शांतिपूर्ण यात्रा निकालेगी, लेकिन कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है।

बता दें कि भाजपा की योजना थी कि शुक्रवार को कूच बिहार से होगा | रविवार को काकद्वीप से और 14 दिसंबर को तारापीठ से रथयात्रा को रवाना किया जाए। रथयात्रा के जरिये भाजपा 40 दिन में 294 विधानसभा क्षेत्रों को कवर करना चाहती है। हालांकि अब जब हाईकोर्ट ने इस पर रोक लगा दी है तो फिर भाजपा को 9 दिसंबर तक का इंतजार करना पड़ेगा। 9 दिसंबर को यदि हाईकोर्ट इसकी अनुमति  दे देती है, तब ही भाजपा यह रैली निकाल पाएगी।

राजस्थान चुनाव : वोटिंग शुरू, जनता करेगी फैसला

11 दिसंबर को मप्र में बनेगी कांग्रेस सरकार

हम राजस्थान में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएंगे : शाह

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.