गहलोत जादूगर से ऐसे बने सियासत के जादूगर

0

अशोक गहलोत, जिनका नाम अब स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को भी याद रखना होगा| वे राजस्थान के नए सीएम बनने वाले हैं| वे एक ऐसे नेता है, जिनका जादू मतदाताओं के सिर चढ़कर बोला और कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में बहुमत के साथ जीत दर्ज की| ऐसा कहा जाता है कि वे जिस भी सीट से चुनाव लड़ते हैं, वहां के मतदाता उन्हें ही जिताते हैं| आज कांग्रेस ने आधिकारिक रूप से उनके नाम को अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुन लिया है| क्या आप जानते हैं सियासत के जादूगर गहलोत पहले असल में भी जादूगर थे|

जादूगर गहलोत

अशोक गहलोत के पूर्वजों का पहले जादूगरी का ही काम था| उनके दादा भी जादूगर थे और उनके पिता स्व. लक्ष्मणसिंह गहलोत भी जादूगर थे| कुछ समय तक राजस्थान के नए सीएम भी जादूगर गहलोत कहलाए| उन्होंने अपने पिता के काम को कुछ समय तक किया, लेकिन वे इस काम से संतुष्ट नहीं हुए| जादूगरी के बाद गहलोत ने सियासत में अपना जादू आजमाया और आज वे तीसरी बार राजस्थान के सीएम पद के लिए चुने गए|

माली जाति से संबंध रखने वाले गहलोत ने अपने जादू से राजस्थान में क्षत्रिय, जाटों और ब्राह्मणों पर भी अपना जादू चलाया| 1998 में वे पहली बार राजस्थान के सीएम चुने गए थे| इसके बाद 2008 में भी वे सीएम बने और अब आने वाले पांच सालों तक उन्हें राजस्थान के सीएम के रूप में जाना जाएगा|

राजस्थान के अगले आलाकमान होंगे गहलोत

जानें आखिर कौन हैं मप्र के नए सीएम कमलनाथ ?

कांग्रेस के लिए सबसे महत्वपूर्ण है दुर्ग

Share.