आठवीं कक्षा के आगे क्यों नहीं पढ़ती लडकियां

0

मध्यप्रदेश में एक ऐसा गांव है जिसमे लड़कों से ज्यादा लड़कियों की संख्या है। यहां सिर्फ लड़कियों की संख्या ज्यादा नहीं है बल्कि इस गांव की हर बेटी पढ़ी लिखी है। इस गांव का दुर्भाग्य यह है कि, इस गांव में एक भी हाई स्कूल नहीं है जिस वजह से इस गांव की बेटियां केवल आठवीं कक्षा तक ही पढ़ पा रही हैं। मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में वैसे तो लिंगानुपात काफी कम है, लेकिन इसका एक छोटा सा गांव बसई इस बात का अपवाद है और यहां बेटों से ज्यादा बेटियों की संख्या है। 

सहायक प्राध्यापक राज्य पात्रता परीक्षा कार्यक्रम जारी

ग्रामीणों को दुःख है तो बस इस बात का कि, गांव में एक भी हाई स्कूल ना होने की वजह से उनकी बेटियां आठवीं कक्षा से आगे नहीं पढ़ पा रहीं हैं। केवल मिडिल स्कूल होने के कारण इस गांव की लडकियां आठवीं कक्षा तक की ही पढ़ाई कर पाती हैं। इस गांव के लोग अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा देने के लिए काफी समय से, गांव में हाई एवं हायर सेकेंडरी स्कूल की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणों की इस मांग पर अभी तक किसी का भी ध्यान नहीं गया और इसी वजह से इस गांव की होनहार बेटियों को, आठवीं कक्षा तक पढ़ाई कर घर बैठना पड़ता है।

भाजपा ने इस विधायक को दिया 100 करोड़ का ऑफर

काजी बसई नाम का गांव जो मुरैना जिला मुख्यालय से महज़ 15 किमी. दूर बसा है, पूरे जिले की तस्वीर और छवि दोनों को ही बदल रहा है। इस गांव के निवासी बेटे और बेटियों में कोई फर्क नहीं करते इसी वजह से यहां बेटों से ज्यादा बेटियों की संख्या है। ग्रामीण अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाना चाहते हैं लेकिन वे मजबूर हैं। गांव में एकमात्र मिडिल स्कूल होने की वजह से ग्रामीणों की बेटियों को प्रारम्भिक शिक्षा तो प्राप्त हो जाती है लेकिन उच्च शिक्षा से वे वंचित रह जाती हैं। काफी लम्बे समय से ग्रामीण अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं और अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। इस बारे में गांव की बेटियों का कहना है कि हाई स्कूल उनके गांव से 10 किमी. दूर स्थित है, इस वजह से वे हाई स्कूल चाहकर भी नहीं जा सकती। ग्रामीणों का कहना है कि आज के दौर में लड़कियों को इतनी दूर वे नहीं भेज सकते। (प्रभात)

चुराई मूर्ति फिर मंदिर में रखी, माफी मांगी

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.