करतारपुर कॉरिडोर को लेकर छिड़ी जुबानी जंग

0

सिख समुदाय के सबसे पवित्र और सबसे बड़े तीर्थस्थल कहे जाने वाले करतारपुर साहिब बरामदे की आज नींव रखी गई। इस कॉरिडोर का शिलान्यास उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया। लेकिन करतारपुर साहिब कॉरिडोर के शिलान्यास के मंच पर घमासान छिड़ गया जब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाक सेना प्रमुख और अपनी पार्टी के नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा।

पाक सेना प्रमुख कमर जावेद पर निशाना साधते हुए अमरिंदर ने कहा कि ‘मैं भी सेना में रहा हूं, वो मेरे से जूनियर हैं, लेकिन पता नहीं वह किस तरह की फौज में हैं कि आम लोगों को निशाना बना रहे हैं। पाक हमें सख्त जवाब देने को मजबूर ना करे।’

गौरतलब है कि आगामी 28 नवंबर को पाक द्वारा अपने क्षेत्र में इस कॉरिडोर की नींव रखी जानी है और इस कार्यक्रम के लिए पाक की तरफ से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को न्योता दिया गया। लेकिन सुषमा स्वराज और अमरिंदर सिंह द्वारा पाक जाने से इंकार कर दिया गया और इस न्योते को ठुकरा दिया गया। हालांकि इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने भारत की तरफ से हरसिमत कौर पाकिस्तान जाएंगी।

हरसिमत कौर 28 नवंबर को पाकिस्तान के शिलान्यास कार्यक्रम का हिस्सा बनने पाकिस्तान जाएंगी। इस वजह से अमरिंदर सिंह ने उन्हें भी निशाने पर ले लिया। अमरिंदर सिंह ने कहा कि ‘सिख होने के नाते मैं भी इस कार्यक्रम का हिस्सा बनना कहता हूँ लेकिन, पंजाब के मुख्यमंत्री होने के नाते मेरी ड्यूटी कहती है की मैं वहां नहीं जाऊं। पाकिस्तान लगातार हमारे जवानों को मार रहा है, कुछ दिन पहले ही अमृतसर के एक गांव में ग्रेनेड फेंका गया। ऐसे में किस तरह मैं पाकिस्तान चला जाऊं।’

हरसिमत कौर ने अमरिंदर के  बयान की निंदा की और प्रधानमंत्री मोदी व पाक प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ की।  इससे पहले जब सिद्धू पकिस्तान गए थे तब हरसिमत कौर ने सिद्धू को निशाने पर लिया था और उन पर जमकर हमला बोला था। इतना ही नहीं, हरसिमत ने सिद्धू को गद्दार तक कह दिया था। अब हरसिमत के पाक जाने को लेकर कांग्रेस के मंत्रियों ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया है। वहीं अमरिंदर सिंह के इस बयान ने इशारों में हरसिमत और सिद्धू को भी सन्देश दे दिया है।

Share.