website counter widget

करण ओबेरॉय पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला गिरफ़्तार

0

टीवी एक्टर करण ओबेरॉय (karan oberoi) पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला को मुंबई पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है। महिला ने करण पर झूठे आरोप (Woman Arrested For False Allegation On Karan Oberoi) लगाकर उन्हें फंसाने की कोशिश की थी। दरअसल , महिला ने 25 मई को पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी कि मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों ने उन पर हमला कर दिया था ,जब वह सुबह की सैर पर निकली थी।

Ayodhya Terror Attack Verdict : अयोध्या मामले में आ गया फैसला

जब पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज निकलवाए  तो जांच में पता चला कि महिला ने खुद ही अपने ऊपर हमला करवाया था और हमलावरों में से एक तो उसके वकील का ही कज़िन था। महिला ने यह स्वीकार किया है कि उसने करण ओबेरॉय (Woman Arrested For False Allegation On Karan Oberoi) के खिलाफ अपने केस को और मजबूत करने के लिए यह फर्जी हमला जानबूझकर करवाया था। पुलिस ने सबसे पहले महिला (Woman arrested for false allegation) के वकील अली काशिफ खान को कथित तौर पर इस हमले का नाटक रचने के लिए गिरफ्तार किया ।  महिला के आरोप की वजह से एक्टर को जेल में  रहना पड़ा था।  करण ओबेरॉय को हाल ही में मुंबई हाईकोर्ट ने इस मामले में जमानत दे दी थी।

इश्क में धोखा और फेसबुक लाइव पर सुसाइ

करण इस महिला के साथ साल 2016 से रिलेशनशिप में थे और मामले में करण के खिलाफ जो FIR दर्ज हुई थी, उसके मुताबिक साल 2017 में करण ओबेरॉय (Woman Arrested For False Allegation On Karan Oberoi) ने महिला से शादी (Woman arrested for false allegation) का वादा करके उसके साथ दुष्कर्म किया था और वीडियो क्लिप बनाकर ब्लैकमेल किया। इस मामले के समय करण का एक बयान सामने आया था,जिसमें उन्होंने बताया था कि उस महिला के साथ वह एक शॉर्ट रिलेशनशिप में थे , लेकिन वह रिलेशनशिप फ्रेंडली रिलेशनशिप थी, जिसमें वह सब कुछ हुआ, जो हर रिलेशनशिप (Woman arrested for false allegation) में होता है। उन्होंने कहा था कि न ही मैंने कोई नशे के डोज़ दिए और न ही कोई प्राइवेट वीडियो बनाया। मुझे फंसाने के लिए मुझ पर यह  आरोप लगाया है।

Saradha Chit Funds Scam : हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका

करण ओबेरॉय(karan oberoi) को जमानत देते हुए न्यायाधीश ने गौर किया कि महिला ने 25 मई को अपने खिलाफ फर्जी हमला करने का “नाटक रचा”था और ऐसा दिखाने की कोशिश की कि अभिनेता के खिलाफ शिकायत करने के कारण (Woman arrested for false allegation)  उसे निशाना बनाया गया। न्यायाधीश ने जांच के तरीके को लेकर पुलिस को भी फटकार लगाई।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.