कंगना LIVE: मामले की सुनवाई 22 सितंबर को

0

LIVE Update:  बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत के कार्यालय को तोड़ने वाले मामले में बीएमसी के खिलाफ दायर याचिका पर मुंबई हाई कोर्ट ने सुनवाई टाल दी.

मामले की अगली सुनवाई 22 सितंबर को होगी

बॉलीवुड अदाकारा कंगना रनौत तमाम विवादों के बीच हिमाचल प्रदेश से मुंबई  पहुंच गई है. लॉक डाउन के बाद पहली बार मुंबई आ रही कंगना का एक और ट्विट अब वायरल हो रहा है. शिवसेना से चल रही जंग के चलते कंगना को गृह मंत्रालय से वाई कैटेगरी की सुरक्षा मिली है. 

कंगना के घर पहुंचे करणी सेना के सदस्य

देवेंद्र फडणवीस बोले- महाराष्ट्र में बदले की भावना का कोई सम्मान नहीं हो सकता

BMC की कार्रवाई पर उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा. सबका वक्त एक जैसा नहीं रहता. कंगना ने एक वीडियो जारी किया है. कंगना ने अपने वीडियो में यह भी कहा कि वह केवल राम मंदिर ही नहीं बल्कि अब कश्मीर पर भी फिल्म बनाएंगी.

मुम्बई रवाना होने से पहले कंगना ने एक ट्वीट किया है

कंगना मुंबई एयरपोर्ट पहुंची

एयरपोर्ट पर समर्थकों और विरोधियों की भीड़

मुंबई महानगरपालिका की एक टीम ने अभिनेत्री कंगना रनौत के बंगले के कुछ हिस्सों को ढहाना शुरू किया. अब इस पर लोगों की प्रतिक्रिया आना भी शरू हो गई है.

कंगना रनौत ने भी ख़ुद ट्वीट कर इस कार्रवाई की तस्वीरें पोस्ट की हैं और एक बार फिर मुंबई की तुलना पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से की है.

कंगना बुधवार को ही हिमाचल प्रदेश से मुंबई लौट रही हैं.

कंगना ने मंगलवार को फिर ट्वीट किया, “सोशल मीडिया पर मेरे दोस्तों ने बीएमसी की जो आलोचना की थी, उसकी वजह से वे आज बुलडोज़र लेकर नहीं आए. इसके बजाय उन्होंने एक नोटिस चिपका दिया कि मेरे दफ़्तर में चल रही लीकेज की समस्या को बंद किया जाए. दोस्तों, भले ही मैंने बहुत कुछ दांव पर लगा दिया हो लेकिन मैं आप सबका बहुत प्यार और समर्थन पाती हूं.”

 

बीबीसी ने बीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी से बात की जिन्होंने नाम न छापने की शर्त पर बताया, “बीएमसी की टीम कंगना के दफ़्तर पहुंची थी. लेकिन ये दौरा क्यों किया गया इसे लेकर की जानकारी नहीं है. वार्ड ऑफ़िसर ही बता सकेंगे कि आखिर बीएमसी की टीम क्यों गई थी.”

संजय राउत हाल ही में कंगना रनौत ने कहा था कि वे मुंबई में वो खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं.

कंगना रनौत (फाइल फोटो-PTI)

दरअसल पिछले कुछ समय से कंगना अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर लगातार मुंबई पुलिस के काम पर सवाल उठा रही हैं.

सोमवार को ही केंद्र सरकार की ओर से कंगना रनौत को वाई प्लस सिक्योरिटी देने का फ़ैसला लिया गया है.

इस पर महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने इस फ़ैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है, “मुंबई या महाराष्ट्र जो भी भी उसका अपमान करता है, ऐसे व्यक्ति को केंद्र शासन ‘Y’ प्लस की सुविधा देता है ये बहुत ही आश्चर्यकारक और दुखकारक है. महाराष्ट्र कोई राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, शिवसेना और कांग्रेस का ही नहीं है. भाजपा का भी है पूरी जनता का है.”

उन्होंने लिखा कि ‘ये मुंबई में मेरा घर है,मैं मानती हूँ महाराष्ट्रा ने मुझे सब कुछ दिया है, मगर मैंने भी महाराष्ट्रा को अपनी भक्ति और प्रेम से एक ऐसी बेटी की भेंट दी है जो महाराष्ट्रा शिवाजी महाराज की जन्मभूमि में स्त्री सम्मान और अस्मिता केलिए अपना ख़ून भी दे सकती है, जय महाराष्ट्रा.’

इसके अलावा उन्होंने एक और ट्वीट किया जहां उन्होंने लिखा कि ‘मैं बारह साल की उम्र में हिमांचल छोड़ चंडीगढ़ हॉस्टल गयी फिर दिल्ली में रही और सोलह साल की थी जब मुंबई आयी, कुछ दोस्तों ने कहा मुंबई में वही रहता है जिसे मुम्बादेवी चाहती है,हम सब मुम्बादेवी देवी के दर्शन करने गए,सब दोस्त वापिस चले गए और मुम्बादेवी ने मुझे अपने पास ही रख लिया.’

 

Share.