कमलनाथ को मिलेगी अब ये जिम्मेदारी

0

मध्यप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर रोजाना नए समीकरण बनने का सिलसिला जारी है| इस बार विधानसभा चुनाव में जीत का परचम लहराने की तैयारी कर चुकी कांग्रेस किसी भी कीमत में मध्यप्रदेश को अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहती है, ऐसे में अब प्रदेश संगठन में बदलाव को लेकर कांग्रेस ने पूरी तैयारी कर ली है| प्रदेश में कांग्रेस संगठन में अब कभी भी बदलाव हो सकता है और इस बदलाव का सबसे पहला  चेहरा कमलनाथ होंगे|

कांग्रेस आलाकमान ने कमलनाथ को मध्यप्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने का मन बना लिया है| हालांकि कमलनाथ का नाम शुरू से ही प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर चल रहा था, और इसके लिए ही वे किसी भी तरह की दूसरी जिम्मेदारी नहीं ले रहे थे, लेकिन फिर संगठन द्वारा दी जाने वाली जिम्मेदारी को लेकर अब कमलनाथ भी इसके लिए राजी नज़र आ रहे हैं|

कमलनाथ यह भी जानते हैं कि अगर प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए वे मध्यप्रदेश में कांग्रेस को जीता लाते हैं तो उनके लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुँचना और भी आसान होगा| वहीँ कांग्रेस के खेमे में अधिकांश कार्यकर्ता भी कमलनाथ के नाम के साथ हैं और चुनाव में यदि कमलनाथ प्रदेश संगठन के मुखिया बनते हैं तो कार्यकर्ता बिना किसी विरोध के उनके लिए काम करेंगे|

वहीँ पूर्व मुख्यमन्त्री दिग्विजयसिंह पहले ही कमलनाथ के नाम का समर्थन कर चुके हैं| वे हर मोर्चे पर कमलनाथ को ही आगे करते हैं, ऐसे में इस चुनाव के लिए कमलनाथ को जिम्मेदारी देने के पीछे भी दिग्गी की रणनीति दिखाई दे रही है|

वैसे भी प्रदेश संगठन में अरुण यादव को लेकर कांग्रेस आलाकमान भी नाखुश है और इस चुनाव में अरुण यादव कुछ ख़ास करेंगे इसका किसी को भरोसा भी नहीं है| ऐसे में संगठन में बदलाव से ही चुनावी जीत का सफ़र कांग्रेस पूरा कर सकती है और उसके लिए नाथ ही कांग्रेस को कमल से जीत दिलाने में मुख्य भूमिका निभा सकते हैं|

अब ये देखना होगा कि कमलनाथ के औपचारिक अध्यक्ष बनने की घोषणा कांग्रेस कब तक करती है और कमलनाथ प्रदेश संगठन में आते ही किस तरह से अपनी टीम के साथ काम शुरु करते हैं|

Share.