महाआरती से नए साल की शुरुआत

0

नए साल का जश्न हर कोई अपने तरीके से मनाना चाहता है। देवभूमि कुल्लू में नए साल का उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। नए साल की शुरुआत व्यास नदी की महाआरती से की जाएगी। इस महाआरती में 5 हजार से भी ज्यादा लोग शामिल होंगे। व्यास नदी के किनारे 150 मीटर के क्षेत्र में  नेचर पार्क मौहाल में इस भव्य महाआरती का आयोजन होगा।

नए साल के पहले दिन यानी 1 जनवरी को 3 बजे से 6 बजे के बीच भव्य व्यास महाआरती का आयोजन होगा। इस महाआरती में भारी तादाद में पर्यटक भी शामिल होंगे। पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ही जिला प्रशासन ने पुजारी व बजंतरी संघ के साथ मिलकर इस आयोजन का फैसला किया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर इस समारोह के मुख्य अतिथि होंगे।

गौरतलब है कि व्यास नदी में बाढ़ के कारण भारी नुकसान हुआ था। इस तरह की बाढ़ भविष्य में दोबारा न आए, इसी वजह से नए साल पर व्यास नदी की पूजा-अर्चना व महाआरती की जाएगी। इस समारोह की तैयारियां अपने अंतिम चरण में पहुंच चुकी हैं। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन ने स्थानीय लोगों से सहयोग की अपील की है। इस महाआरती के बारे में बताते हुए कुल्लू उपायुक्त यूनुस ने कहा कि 108 पंडित व्यास नदी की महाआरती में स्तुति कर पूरे विश्व को शांति का संदेश देंगे। पारंपरिक वाद्ययंत्रों की देवधुनों पर व्यास की स्तुति की जाएगी।

तीन दिन की बर्फबारी से जमा शिमला

दुनियाभर में फेमस है यहां का दशहरा, मिलेगा असली आनंद

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी में फंसे 300 लोगों को सुरक्षित निकाला

Share.