वायुसेना चीफ बीएस धनोआ: राफेल से देश ताकतवर होगा

0

राफेल डील पर जहां नरेंद्र मोदी सरकार विपक्ष पर चारों ओर से हमला कर रही हैं। इस बीच वायुसेना चीफ बीएस धनोओ ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जेट राफेल के आने से वायुसेना की ताकत में बढ़ोतरी होगी। धनोई ने राफेल को देश के लिए ज़रूरी बताया है। धनोओ ने कहा हमारी स्थिति अलग है। हमारे पड़ोसी परमाणु संपन्न हैं और वे अपने विमानों के आधुनिकीकरण में लगे हुए हैं। राफेल से हम कठिनाइयों का सामना कर पाएंगे। गौरतलब है कि वायुसेना के उप वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल एसबी देव ने भी इस डील का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि इस डील की आलोचना करने वालों को इसके मानदंड और खरीद प्रक्रिया को समझना चाहिए।

बीएस धनोओ ने एक कार्यक्रम में कहा कि राफेल और एस-400 के जरिये सरकार सेना की ताकतों में इज़ाफा कर रही है। उन्होंने कहा कि वायुसेना के पास पर्याप्त संख्या में स्क्वाड्रंस नहीं हैं। वायुसेना को 42 स्क्वाड्रन्स की ज़रूरत है, लेकिन अभी इनकी संख्या सिर्फ 31 है। उन्होंने कहा 42 स्क्वाड्रन के मुकाबले हम अपने दो क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वियों की संयुक्त संख्या से नीचे होंगे।

उन्होंने कहा कि हमारे पड़ोसियों ने दूसरे और तीसरे जनरेशन के विमानों को चौथे और पांचवें जनरेशन के विमान से रिप्लेस कर लिया है। हमें भी अपने विमानों को अपग्रेड करना होगा। बीएस धनोओ ने कहा कि हमें किसी प्रकार के संघर्ष की स्थिति को रोकने के लिए पूरी तैयार रहना होगा ताकि दो मोर्चे पर लड़ना भी पड़े तो हम तैयार रहें। उन्होंने कहा, राफेल जैसे हाईटेक विमान हमारी ज़रूरत हैं क्योंकि तेजस अकेले मुश्किलों का सामना नहीं कर पाएगा। उन्होंने कहा कि भारत को विपक्षी देशों के मुकाबले खुद को मजबूत करने की आवश्यकता है|

राफेल का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, जानिए कब होगी सुनवाई

अनिल अंबानी ने राहुल को लिखा पत्र

Share.