सैलरी न मिलने पर जेट एयरवेज़ की 14 उड़ानें रद्द

0

जेट एयरवेज ने रविवार को विभिन्न गंतव्यों के लिए अपनी लगभग 14 उड़ानों को रद्द कर दिया। उड़ानों को रद्द करने के पीछे का कारण पायलटों का ड्यूटी पर नहीं आना है। दरअसल, जेट एयरवेज़ में सैलरी विवाद चल रहा है, जिसका असर अब उसकी उड़ानों पर भी पड़ने लगा है। सैलरी न मिलने के कारण पायलटों ने अचानक बीमारी का बहाना बनाकर छुट्टी ले ली है। पायलटों के छुट्टी पर चले जाने के कारण जेट एयरवेज़ की 14 उड़ानें रद्द

इस पर कंपनी ने सफाई देते हुए कहा है कि परिचालन परिस्थितियों के कारण उड़ानों को रद्द करना पड़ा। दरअसल, कंपनी के पायलट नेशनल एविएटर्स गिल्ड (एनएजी) के प्रबंधन के समक्ष उदासीन रवैये को लेकर विरोध कर रहे हैं। पायलटों के वेतन और बकाया राशि के भुगतान को लेकर पायलटों ने एनजी से जेट एयरवेज़ प्रबंधन के समक्ष मुद्दा उठाने को कहा था।

गौरतलब है कि एनएजी जेट एयरवेज़ के पायलटों की एक संस्था है और इस संस्था में एक हजार से भी अधिक पायलट शामिल हैं। निजी एयरलाइन कंपनी ने अगस्त माह से अपने वरिष्ठ प्रबंधन और विमान चालकों को पूरा वेतन नहीं दिया है। दरअसल, यह निजी एयरलाइंस कंपनी घाटे में चल रही है। सितंबर माह में कंपनी ने अपने कर्मचारियों को आंशिक भुगतान किया था, इसके बाद अक्टूबर व नवंबर में कर्मचारियों को कोई वेतन नहीं दिया गया।

इस मुद्दे से जुड़े एक सूत्र से जानकारी मिली है कि कुछ विमान चालकों ने एयरलाइन के चेयरमैन नरेश गोयल को पत्र भेजा और अपनी नाराज़गी जाहिर की। सूत्र ने कहा कि कुछ पायलटों ने एयरलाइन चेयरमैन नरेश गोयल को भी पत्र लिखकर कहा कि वे इस तरीके से काम करने के इच्छुक नहीं हैं।

उड़ानें रद्द किए जाने पर जेट एयरवेज़ की तरफ से जानकारी दी गई कि रद्द की जाने वाली उड़ानों के प्रभावित यात्रियों को एसएमएस अलर्ट के माध्यम से उड़ानों के रद्द होने की और उसकी स्थिति के बारे में पूरी सूचना दे दी गई है। इसके अलावा प्रभावित यात्रियों को दूसरी उड़ानों में सीट दी गई है और जिन्हे सीट उपलब्ध नहीं हो सकी, उन्हें कंपनी द्वारा क्षतिपूर्ति की गई है।

जेट एयरवेज ने यात्री को किया गिरफ्तार!

Video: जेट एयरवेज के विमान में सवार यात्रियों के नाक-कान से बहने लगा खून

इंदौर : यात्री ने एयरहोस्टेस से की छेड़छाड़!

Share.