इस राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू

0

जम्मू-कश्मीर में बुधवार रात को राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया| 6 महीने बाद यहां राज्यपाल शासन पूरा होने के बाद राष्ट्रपति शासन लागू किया गया है| इस बारे में बुधवार को आदेश जारी हो गया| राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक की सिफारिश पर इस बाबद एक घोषणा-पत्र पर हस्ताक्षर कर दिए हैं| राज्य में महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व में गठबंधन सरकार से जून में भाजपा ने समर्थन वापस ले लिया था| इसके बाद जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक संकट बना हुआ है|

गौरतलब है कि इस वर्ष जून में राज्य में उस समय राजनीतिक संकट पैदा हो गया था, जब पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार से भाजपा अलग हो गई थी| पिछले महीने मलिक ने राज्य विधानसभा को भंग कर दिया था, जिसे निलंबित अवस्था में रखा गया था|

राष्ट्रपति शासन के आदेश के बाद राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई हैं| नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला बोले कि अब राज्यपाल या राष्ट्रपति शासन को खत्म कर चुनाव करवाना चाहिए ताकि लोग अपनी सरकार चुन सकें|

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय कैबिनेट ने जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करने वाली वहां के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की रिपोर्ट पर सोमवार को फैसला किया था| राष्ट्रपति शासन की अधिघोषणा के बाद संसद राज्य की विधायिका की शक्तियों का इस्तेमाल करेगी या उसके प्राधिकार के तहत इसका इस्तेमाल किया जाएगा|

जम्मू-कश्मीर का अलग संविधान है| जम्मू-कश्मीर के संविधान के अनुच्छेद 92 के तहत वहां छह माह का राज्यपाल शासन अनिवार्य है| इसके तहत विधायिका की तमाम शक्तियां राज्यपाल के पास होती हैं|

जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन जल्द…

जम्मू-कश्मीर में 72 घंटों में 16 आतंकी ढेर…

जम्मू-कश्मीर में सरकार की तैयारी, मुख्यमंत्री होंगे बुखारी

Share.