इंटरनेशनल कोर्ट में आज कुलभूषण जाधव पर निर्णय

0

पाकिस्तान में कैद भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव (kulbhushan jadhav) के मामले में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (International Court Justice On Kulbhushan Jadhav) बुधवार को अपना फैसला सुनाने जा रहा है| शाम 6:30 बजे होने वेले इस फैसले का देशभर में इन्तजार किया जा रहा है वही इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले पर दुनिया के अन्य देश की नजरें भी बानी हुई है|

कुलभूषण जाधव को अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी जिसका भारत ने विरोध करते हुए मामला अंतरराष्ट्रीय कोर्ट मेडायर किया | दो साल तक भारत ने कुलभूयशन के लिए यहाँ किला लड़ाया | आखरी सुनवाई इसी साल 18 से 21 फरवरी तक हुई थी|

राहुल को नशेड़ी कहने वाले सुब्रह्मण्यम स्वामी की फ़जीहत

नीदरलैंड स्थित द हेग के पीस पैलेस में बुधवार को भारतीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे सार्वजनिक सुनवाई होगी| अदालत के प्रमुख न्यायाधीश अब्दुलकावी अहमद यूसुफ फैसला पढ़कर सुनाएंगे| दरअसल, इस चर्चित मामले (International Court Justice On Kulbhushan Jadhav) में फैसला आने से करीब पांच महीने पहले न्यायाधीश यूसुफ की अध्यक्षता वाली आईसीजे की 15 सदस्यीय पीठ ने भारत और पाकिस्तान की मौखिक दलीलें सुनने के बाद 21 फरवरी को अपना फैसला सुरक्षित रखा था|

अब सिद्धू क्या करेंगे, ये हैं ऑप्शन्स

पिछले हफ्ते पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा था कि उनका देश जाधव मामले में आईसीजे के फैसले का ”पूर्वानुमान नहीं लगा सकता| हालांकि, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने आईसीजे में इस मामले में अपना पक्ष जोरदार तरीके से रखा है|

भारत ने यह भी कहा कि कुलभूषण जाधव (International Court Justice On Kulbhushan Jadhav) के ट्रायल में पारदर्शिता नहीं थी| वहीँ जानकारों को उम्मीद है कि फैसला भारत के पक्ष में ही आएगा| भारत ने ICJ में अपना पक्ष मजबूती से रखते हुए कहा था कि जाधव को ईरान से पाक एजेंसियों ने अगवा कर जासूसी का झूठा आरोप लगाया है| जाधव को पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सज़ा सुनाई है, जिस पर ICJ ने भारत के आग्रह पर रोक लगा दी थी|

भोपाल में 3 साल के मासूम को अगवा कर जिंदा जलाया

Share.