website counter widget

शौचालय में रखी जा रही पुस्तकें…

0

मध्यप्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में विकास को लेकर प्रदेश सरकार निरंतर नई योजनाएं लागू करती रहती है, परंतु जमीनी हकीकत कुछ और ही है| शिक्षा विभाग मासूमों को शिक्षा देने के लिए कितना प्रयासरत है, इसका ताजा उदाहरण शिवपुरी के एक स्कूल में देखने को मिला| दरअसल, जिले के कोलारस अनुविभाग की झाडेल ग्राम पंचायत के अटलपुर पिपरौदा गांव के शासकीय प्राथमिक विद्यालय में स्कूल प्रबंधन ने शौचालय  को ही पुस्तकालय के रूप में तब्दील कर दिया है|

अब ज्ञान का इससे बड़ा निरादर क्या होगा कि शौचालय में स्कूल का पुस्तकालय संचालित किया जा रहा है और अध्यापक बच्चों को खुले में बिठाकर पढ़ा रहे हैं. स्थिति यह है कि स्कूल के शिक्षक कक्षा के कमरों में अपनी मोटरसाइकिल खड़ी कर रहे हैं| शौचालय में स्कूल प्रबंधन द्वारा पुस्तकालय बना दिए जाने से छात्र-छात्राएं खुले में शौच पर जाने के लिए मजबूर हैं|

इस संबंध में विद्यालय के सहायक शिक्षक वीरेंद्रसिंह तिर्की ने बताया कि स्कूल से पुस्तकें चोरी हो जाती हैं, जिस कारण वे पुस्तकों को शौचालय में रखकर ताला लगा देते हैं| स्कूल के अन्य कमरों में दरवाजे नहीं हैं, जिस कारण उनमें स्कूल की सामग्री नहीं रखी जा सकती है| मामले में वरिष्ठ अधिकारी कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं हैं और मामले की जांच की बात कह रहे हैं|

विद्यालय को विद्या का मंदिर कहा जाता है| विडम्बना देखिये कि इस मंदिर में ही पुस्तकों का ही अपमान किया जाता है| यहाँ के शिक्षकों की कैसी सोच होगी, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है |

-अंकुर उपाध्याय

मप्र : हिना कांवरे बनी उपाध्यक्ष

प्रतिपक्ष का मजबूत होना जरूरी : कमलनाथ

मकर संक्रान्ति स्नान पर क्षिप्रा में कम नहीं होगा पानी

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.