केरल बाढ़ पीड़ितों के दु:ख निवारण में सहभागी बना इंदौर

0

केरल में बीते माह आई भीषण बाढ़ के दुःख में इंदौर शहर ने एक बार फिर मानवता की मिसाल पेश की है। हमेशा मदद कार्यों में अग्रणी रहने वाले इंदौर के नागरिकों ने केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए सहायता जुटाने में भी बढ़-चढ़कर भूमिका निभाई है। केरल में गत माह आई भीषण बाढ़ के बाद इंदौर जिले की अलग-अलग संस्थाओं ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया था। इस प्रकल्प में विभिन्न नागरिक और  संगठन भी मदद के लिए आगे आए थे। इंदौर जिला प्रशासन ने लोगों के आपसी सहयोग और अन्य माध्यमों से केरल के लोगों के लिए राशि इकठ्ठा की थी।

इंदौर जिले से केरल के बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए मुख्यमंत्री बाढ़ राहत कोष और भारतीय रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा केरल को सवा 31 लाख रुपए से अधिक की मदद भेजी गई है।

मामले में  जानकारी देते हुए कलेक्टर निशांत वरवड़े ने बताया कि उक्त राशि के चेक केरल प्रशासन को भेज दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि एसोसिएशन्स ऑफ यूनाइटेड सीबीएसई स्कूल इंदौर, अध्यक्ष इंदौर टेनिस क्लब इंदौर और बेसिक ड्रग्स डीलर्स एसोसिएशन्स इंदौर द्वारा एक-एक लाख रुपए की मदद दी गई है।

इसी तरह सियागंज होलसेल किराना मर्चेन्ट एसोसिएशन्स द्वारा 12 लाख 60 हजार रुपए, इंदौर रेसीडेन्सी क्लब द्वारा 5 लाख रुपए, सेवानिवृत्त वाणिज्यिक कर उपायुक्त सुरेश व्यास द्वारा 11 हजार रुपए, सेवानिवृत्त अधीक्षक मनोहर कनोड़िया द्वारा सौ रुपए, कलेक्टर इंदौर द्वारा चार हजार रुपए, आईटीआरसी टेक्नालॉजी प्रायवेट लिमिटेड द्वारा एक लाख दो हजार 920 रुपए, मध्यप्रदेश पुलिस राजपत्रित अधिकारी सेवानिवृत्त कल्याण समिति द्वारा 51 हजार रुपए, डेली कॉलेज द्वारा 6 लाख 46 हजार 364 रुपए, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खजराना द्वारा 46 हजार 501 रुपए, अपना स्वीट्स द्वारा एक लाख 26 हजार 210 रुपए, रेलवे द्वारा दवाइयां एवं कपड़े तथा एडवांस एकेडमी द्वारा 79 हजार 180 रुपए की मदद राशि पहुंचाई गई है। इस तरह जिले से कुल 31 लाख 27 हजार 275 रुपए की मदद अभी तक दी जा चुकी है।

केरल में बाढ़ के बाद सूखे का खतरा

केरल में बाढ़ के बाद अब ‘रैट वायरस’ का प्रकोप

केरल: मुख्यमंत्री राहत कोष में 1000 करोड़ से ज्यादा जमा

Share.