स्कूली छात्रा की हत्या को लेकर आया फैसला

0

एक 17 वर्षीय स्कूली छात्रा की उसी के घर में घुसकर चाकू से वार कर हत्या करने वाले आरोपी को जिला कोर्ट ने उम्रकैद की सज़ा सुनाई। आरोपी युवक ने खुद को युवती बताकर छात्रा से फेसबुक पर पहले दोस्ती की और इसके बाद अपनी असली पहचान बताकर बात करने की कोशिश कर रहा था| मिली जानकारी के अनुसार, हत्यारे का नाम अमित यादव उर्फ अथर्व निवासी गुजरखेड़ा महू है। शनिवार को एडीजे एमके शर्मा की कोर्ट ने यह सज़ा सुनाई है| इस हत्याकांड की पैरवी एजीपी अभिजीतसिंह राठौर और दिनेश हार्डिया ने की। जिला लोक अभियोजक विमल कुमार मिश्रा के अनुसार, यह घटना वर्ष 2016 की है।

गीता नगर में हुआ था हत्याकांड

घटना के संबंध में जानकारी यह है कि आरोपी अमित ने छात्रा प्रिया रावत के घर में घुसकर वारदात को अंजाम दिया था| अमित ने प्रिया पर चाकू से 22 वार किए थे| घटना के समय प्रिया की चिल्लाने की आवाज सुनकर मां किरण बीच-बचाव करने पहुंची तो अमित ने उन्हें भी घायल कर दिया था। घटना के बाद  इलाज के दौरान प्रिया की मौत हो गई थी। इस हत्याकांड को गीता नगर में अंजाम दिया गया था|

आरोपी सॉफ्टवेयर इंजीनियर

अभियोजन से मिली जानकारी के अनुसार, अमित ने खुद का फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाया था और प्रिया से दोस्ती की थी| लेकिन जैसे ही प्रिया को ये बात पता चली तो उसने अमित से दूरी बना ली| इसके बाद अमित प्रिया के घर पहुंचा और विवाद करने लगा| प्रिया की सही बाते सुन अमित तैश में आ गया और  उसने प्रिया पर चाकू से 22 वार कर दिए| बताया जा रहा है की प्रिया आईआईटी की तैयारी कर रही थी| आरोपी अमित साफ्टवेयर इंजीनियर है। इस पूरे प्रकरण की सुनवाई के दौरान प्रिय के परिजन और अन्य गवाहों ने अभियोजन के अनुसार बयान दर्ज करवाए |

Share.