Video: लोहामंडी की जर्जर सड़कें बन रही हैं, परेशानी का सबब

0

इंदौर शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर के एक हिस्से को सजाया-संवारा जा रहा है, लेकिन दूसरी ओर बाकी शहर के हालात नगर निगम की अनदेखी की वजह से दयनीय होते जा रहे हैं| शहर की लोहा मंडी के व्यापारी और वाहन चालक यहां की जर्जर सड़कों से लंबे समय से परेशान है| बार-बार परेशानी बताने के बाद भी न तो सड़कें बनाई जा रही है न ही इंदौर नगर निगम का अमला यहां विकास करवा रहा है| व्यापारी अपने धन से सड़कें सुधरवा रहे हैं जबकि उनका यह प्रयास नाकाफी साबित हो रहा है|

बारिश और ड्रेनेज के गंदे पानी से बढ़ी परेशानी 

लोहा मंडी व्यापारी सुरेंद्र गोस्वामी का कहना है कि लोहामंडी की एक सड़क बनी है, बाकी सड़कें ख़राब हैं | ख़राब सड़कों की वजह से आए दिन हादसे हो रहे हैं | व्यापारियों का कहना है कि ख़राब सड़कों को लेकर शिकायत भी की जा चुकी है| इन दिनों हम सभी कीचड़ और सड़कों पर भरे बारिश और ड्रेनेज के गंदे पानी से परेशान हैं| व्यापारी पदमकुमार जैन ने बताया कि लोहामंडी की ख़राब सड़कें यहां आने वाले वाहन चालकों के लिए सबसे बड़ी परेशानी बन रही है| वाहन चालकों को आए दिन नुकसान उठाना पड़ रहा है|

वाहनों में हो रही है टूट-फूट

लोहा मंडी की जर्जर सड़कों की वजह से वाहन चालकों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है| वाहन चालक बलराम शर्मा इंदौर नगर निगम के व्यवहार से नाराज़ हैं|  वाहन चालक मो.शरीफ शेख अब इशारों -इशारों में चुनाव में सबक सीखने की बात कर रहे हैं| कुछ इसी तरह की नाराज़गी शहर के अन्य क्षेत्रों में भी है, जिसे लेकर आम लोगों के साथ- साथ व्यापारी वर्ग की भी नाराज़ी है, जबकि निगम इन ज़रूरी और मूलभूत सुविधाओं को लेकर अपना मुंह मोड़कर बैठा है, जिसका खामियाजा आने वाले चुनाव में सत्ताधारी पार्टी के उम्मीदवारों को भुगतना पड़  सकता है|

25-25 ट्रॉली मुरम डलवा चुके हैं

लोहा व्यापारी सईद खान ने बताया कि इलाके में पिछले 10 साल से सड़कें नहीं बनाई गई है| लोहा मंडी में केवल एक प्रमुख सड़क ठीक हालत में बाकी सड़कों की हालत आज भी एक दशक पुरानी जैसी है| निगम के अमले ने एक बार इन जर्जर सड़कों की नपती का काम भी किया, लेकिन उसके बाद कोई नहीं आया | अब तक जहां ज़रूरत है वहां – वहां व्यापारी अपने हिसाब से 25-25 ट्रॉली मुरम डलवा चुके हैं|

Share.