अब विधायक की मौजूदगी में चांटा कांड…

0

इंदौर नगर निगम के एक पार्षद की मौजूदगी में दो साल पहले हुआ चांटा कांड अब भी सुलग रहा है और अब निगम के जेडओ की कथित पिटाई का मामला सामने आ गया है| इस बार की पिटाई विधायक की मौजूदगी में हुई है| हालांकि इस मामले में न तो निगम अधिकारी की ओर से कोई शिकायत की गई है और न ही मौजूद लोग इस घटनाक्रम को हवा देने का कोई प्रयास कर रहे हैं| 

वार्ड क्रमांक 45 का मामला – चांटा कांड

ताजा घटनाक्रम वार्ड 45 का है, जहां सोमवार को सुबह 10 बजे विधायक महेंद्र हार्डिया और एमआईसी सदस्य सूरज कैरो कार्यकर्ताओं के साथ देवनगर पहुंचे थे | यहां मौजूद लोगों ने सभी नेताओं को सफाई, पानी और ड्रेनेज संबंधी समस्या बताना शुरू किया। इसी बीच रहवासियों के साथ खड़े बबलू नामक युवक ने गुस्से में आकर कथित रूप से जेडओ को चांटा मार दिया। बबलू का आरोप था कि अधिकारी शिकायत करने के बाद भी समस्या पर न तो ध्यान दे रहे हैं और न ही परेशानियों को दूर कर रहे हैं|

विधायक ने लगाई फटकार

इस कथित चांटा कांड की घटना के दौरान विधायक हार्डिया ने कार्यकर्ता को तुरंत पीछे किया और चिल्लाकर फटकार लगाई। इस दौरान अन्य लोगों ने भी बीच-बचाव किया| अन्य लोगों ने भी स्थिति को संभाला| मौके पर मौजूद जनप्रतिनिधियों ने तुरंत ही मामले को संभाला ही नहीं बल्कि उस पर पूरी तरह से पानी डालकर उसे शांत भी किया|

अब दोनों पक्ष कर रहे घटना से इनकार

पंचम की फेल जोन के जोनल अधिकारी पाटीदार के साथ हुई घटना को लेकर भाजपा कार्यकर्ता बबलू इनकार कर रहे है, जबकि घटना के वक्त मौजूद विधायक महेंद्र हार्डिया और एमआईसी सदस्य व क्षेत्रीय पार्षद ने विवाद की बात मानी है|

नहीं करवाई रिपोर्ट दर्ज

विवाद करने वाले भाजपा कार्यकर्ता बबलू के खिलाफ जेडओ पाटीदार घटना के वक्त से ही थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने के पक्ष में थे| निगम में इस मामले पर लगातार मंथन किया जा रहा है| हालांकि रिपोर्ट अब तक नहीं लिखवाई गई है|

इस तरह ठंडा किया मामले को

देवनगर में ड्रेनेज लाइन चोक होने की समस्या पिछले तीन साल से बरकरार है| क्षेत्र के रहवासी इस समस्या से परेशान हो चुके हैं| इसी मामले को लेकर चली  बहस विवाद में बदल गई और कथित चांटा कांड हो गया| हालांकि इस मामले में विधायक का कहना है कि चांटा मारने की कोई घटना नहीं हुई है| मैंने खुद कार्यकर्ता को रोका है| घटना के वक्त मौजूद कैरो का कहना है कि ड्रेनेज सहित अन्य समस्याओं से परेशान लोग इकट्ठा थे। जेडओ से विवाद हुआ था, लेकिन चांटा मारने जैसी घटना नहीं हुई|

नहीं हुआ कोई विवाद

घटना के कथित रूप से शिकार हुए जोनल अधिकारी पाटीदार ने कहा कि न तो देवनगर में उनका कोई विवाद हुआ है और न ही किसी तरह की कोई मारपीट की घटना हुई है|

Share.