नई-पुरानी संपत्तियों को सूचीबद्ध करेगा निगम 

0

इंदौर नगर-निगम ने अब राजस्व वसूली पर ध्यान देना शुरू कर दिया है| निगम अपनी आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए अब उन सम्पत्तियों को सूचीबद्ध कर रहा हैं, जो निगम के दस्तावेजों में दर्ज नहीं हैं| इसके लिए निगम ने एक कार्ययोजना बनाकर अभियान शुरू करने की बात कही है| निगम का कहना है, कि वह इस अभियान में पुरानी सम्पत्तियों के साथ -साथ नई सम्पत्तियों का बारीकी से सर्वे करवाने से निगम का रिकार्ड अपडेट होगा, साथ नए करदाताओं के साथ ही ऐसे कर डाटा चिन्हित हो सकेंगे, जिन्होंने निगम के दस्तावेजों में अपनी संपत्ति की सही जानकारी अब तक दर्ज नहीं करवाई हैं|

राजस्व वसूली का लक्ष्य 100 फीसदी हो

इंदौर नगर निगम चालू वित्त वर्ष में पिछले वर्ष की तुलना से अधिक राजस्व की वसूली करना चाहता है, इसके लिए अभी से लक्ष्य निर्धारित कर निगम आयुक्त आशीषसिंह ने अपने सभी मातहतों की निर्देशित कर दिया है| स्पष्ट निर्देश जारी किये गए हैं कि निगम अधिकारी राजस्व की वसूली पर पूरा- पूरा ध्यान दें,  जिससे राजस्व वसूली 100 फीसदी हो सके|

19 जोनों में होगा संपत्तियों का भौतिक सत्यापन

नगर निगम ने इस काम के लिए सतत अभियान चलाने की बात कही है| इसके अलावा निगम 19 जोनों में संपत्तियों का भौतिक सत्यापन भी करवाएगा, जिससे राजस्व में एक बढ़ी वृद्धि दर्ज हो सके| शहर में अनेक स्थानों पर लोगों ने पुराने के साथ नए निर्माण कर लिए हैं, लेकिन इस बात की जानकारी निगम के रिकॉर्ड में अपडेट नहीं है | निगम को हर साल इससे राजस्व की बड़ी हानि हो रही है|

यह खबर भी पढ़े – इंदौर: महिलाओं से छेड़छाड़ के बाद युवक की पिटाई

यह खबर भी पढ़े – राजनीति का शिकार हो रहा प्रमुख मार्ग 

यह खबर भी पढ़े – पगड़ी रस्म में दी ‘सीपीआर’ की ट्रेनिंग

Share.