website counter widget

फूड डिलीवरी बॉय निकाला 10 हजार ईनामी बदमाश

0

इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक वर्ष से फरार चल रहे 10 हजार के ईनामी बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी धार जिले में एचडीएफसी बैंक में कैशियर रहते हुए 1 करोड़ 28 लाख रुपए का गबन कर फरार था। पिछले एक साल से वह इंदौर में नाम बदलकर एक फूड कंपनी में डिलीवरी बॉय का कार्य कर रहा था।

क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि एचडीएफसी बैंक की धार जिले की शाखा में 1.28 करोड़ रुपए का घोटाला कर फरार हुआ आरोपी अंकित घाटे इंदौर के राजमोहल्ला में देखा गया। सूचना के बाद टीम ने राजमोहल्ला से एक व्यक्ति को पकड़ा, जिसने अपना नाम अंकित घाटे पिता नरहरी घाटे निवासी हैप्पी विला कॉलोनी, नौगांव बताया।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह कंप्यूटर साइंस से ग्रेजुएट है। उसके पिता बैंक से रिटायर्ड हैं। उसने इंजीनियरिंग के बाद धार में एचडीएफसी बैंक में कैशियर के पद पर जॉब शुरू कर दी। अंकित ने बताया कि बैंक की शाखा लेन-देन का पूरा हिसाब उसकी ही देखेख में होता था।

उसने बताया कि वह ग्राहक द्वारा जमा राशि की कंप्यूटर में एंट्री करते समय राशि की रकम को पूरी लिखता था, परंतु प्रारुप अनुसार दर्शाए नोटों की संख्या को कम लिखता था। जैसे किसी ने 1 लाख रुपए जमा कराए, जिसमें 500 रुपए के 200 नोट हैं, तो अंकिक उसमें से 8 नोट निकाल लेता था, जब कंप्यूटर में एंट्री करता, तब 500 रुपए के 192 नोट लिख देता और कुल 1 लाख ही लिखता था। ऐसे में कई खातों के लेनदेन में वह दिनभर नोट चुरा लेता था।

उसने बताया कि बैंक में वेरीफिकेशन के दौरान नोटों की जो संख्या लिखी होती, उसका मिलान अलग से होता था और कुल राशि का अलग तो ऐसी स्थिति में कंप्यूटर में फीड की गई, जानकारी पर नोटों की संख्या समान दिखती तथा फीड किए गए कैश की रकम भी बराबर मिलती थी। इस कारण आरोपी पर किसी को शक नहीं होता था।

कुशाग्र

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.