X
website counter widget

* सुबह 10.00: सेना की विशेष गाड़ी में अटलजी  * सुबह 10.20: इंडिया गेट से होकर गुजरी यात्रा दोपहर 1 बजे तक ही खुली रहेगी सुप्रीम कोर्ट

election

2 हजार से अधिक वारदातों को दे चुके हैं अंजाम

0

623 views

इंदौर क्राइम ब्रांच ने बड़ी सफलता प्राप्त करते हुए दो ऐसे शातिर विदेशियों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने देश के अलग -अलग हिस्सों में एटीएम की धोखाधड़ी के माध्यम से 2,000 से अधिक वारदातों को अंजाम दिया है| इस गिरोह के सदस्यों ने करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी की है। क्राइम ब्रांच की पकड़ में आए दोनों जालसाज़ मूल रूप से रोमानिया के निवासी हैं और कोलकाता और दिल्ली में रहते हुए अनेक वारदातों को अंजाम दे चुके हैं|

कोलकाता पुलिस से मिली थी सूचना 

एएसपी क्राइम अमरेंद्रसिंह ने बताया कि टीम के हत्थे चढ़े जालसाज़ों के नाम एड्रियन और कांस्टेन्ट है और इनके विरुद्ध कोलकाता में प्रकरण दर्ज है| इंदौर पुलिस को कोलकाता पुलिस से सूचना मिली थी कि दोनों जालसाज़ मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में हो सकते हैं। इसी सूचना के आधार पर इंदौर क्राइम ब्रांच की टीम ने तहकीकात के बाद घेराबंदी कर इन्हें धरदबोचा| ये दोनों जालसाज़ उस समय इंदौर क्राइम ब्रांच की घेराबंदी में आ सके, जब लखनऊ से मुंबई की ओर जा रहे थे| क्राइम ब्रांच की टीम ने इसी सूचना पर राऊ-खलघाट फोरलेन पर कड़ी घेराबंदी की और जालसाज़ों को मानपुर के समीप धरदबोचा|

पुलिस ने की पूछताछ

एएसपी क्राइम अमरेंद्रसिंह ने बताया कि पकड़े गए जालसाज़ों से इंदौर और आसपास के शहरों में हुई वारदातों के संबंध पूछताछ की गई है| दोनों जालसाज़ों को एटीएम पर जालसाज़ी करने की एक प्रकार से महारथ हासिल है | पकड़े गए जालसाज़ों ने करीब 2 हजार वारदातें की हैं और करोड़ों का चूना लगाया है| दोनों बदमाश 7 माह पहले 2017 में ही रोमानिया से यहां आएं हैं | वीजा लेकर यहां पहुंचे दोनों बदमाशों ने अनेक वारदातों को अंजाम दिया है |

क्लोन की  मदद से करते थे वारदात

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, बदमाश मॅग्नेटिक डिवाइस वाला कैमरायुक्त उपकरण किसी भी एटीएम लगाकर वारदात को अंजाम देते थे| इसी  मॅग्नेटिक डिवाइस की मदद से खातेदार की सम्पूर्ण जानकारी गिरोह तक पहुंच जाती थी और बदमाश क्लोन बनाकर खाते में रखी सारी राशि गायब कर देते थे|

एएसपी क्राइम अमरेंद्रसिंह ने बताया कि जालसाज़ एड्रियन और कांस्टेन्ट की पकड़ में आने की जानकारी कोलकाता पुलिस को दी गई| कोलकाता पुलिस की टीम रात में इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस पहुंच गई और सुबह की फ्लाइट से दोनों जालसाज़ों को अपने साथ ले गई | इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोलकाता पुलिस को कितनी सरगर्मी से इन दोनों की तलाश थी|

यह खबर भी पढ़े- इंदौर से अमरावती जा रही बस खाई में गिरी

यह खबर भी पढ़े- एस्केलेटर और लिफ़्ट का काम इसी माह होगा पूरा

यह खबर भी पढ़े- उज्जैन : भस्म आरती के दौरान विवाद, चले चाकू

Share.