रेलवे निजीकरण: 2023 में 12 निजी ट्रेनें पटरी पर, यह है आगे की योजना

0

बेरोजगारी के मुद्दे पर अक्सर मुह छुपाने वाली मोदी सरकार ने अब भारतीय रेलवे को भी निजी हाथों में सौपने का काम शुरू कर दिया है. इस फैसले को अमिलीजामा पहनने की ओर अब मोदी सरकार ने तेजी से कदम भी बाधा दिए है. जल्द ही देश में 12 निजी रेलगाड़ियों को पटरी पर दौड़ते देखा जायेगा. पहला बैज 2023 में शुरू कर देने की योजना है. उसके अगले वित्त वर्ष में ऐसी 45 रेलगाड़ियां और शुरू हो जाएंगी.

भारतीय रेलवे के एक अधिकारी ने कहा है कि ऐसी सभी 151 रेलगाड़ियां अपने पूर्वनिर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 2027 तक शुरू हो जाएंगी. मामले में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, ‘हमने एक योजना तैयार की है, जिसके तहत हमें निजी रेल परिचालन शुरू करने की उम्मीद हैं. मार्च 2021 तक निविदाओं को अंतिम रूप दिया जाएगा और मार्च 2023 से रेलगाड़ियों का संचालन शुरू हो जाएगा.’ रेलवे ने कहा है कि 70 फीसदी निजी रेलगाड़ियों का विनिर्माण भारत में किया जाएगा, जिन्हें अधिकतम 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के लिए डिजाइन किया जाएगा.

लोकसभा में निकली इन पदों के लिए वेकेंसी, ऐसे करें आवेदन

उन्होंने बताया कि रेलगाड़ियों के 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने पर यात्रा समय में 10-15 फीसदी की और 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने पर 30 फीसदी तक की बचत होगी.उन्होंने कहा कि रेलवे को इन 151 रेलगाड़ियों के परिचालन से प्रति वर्ष लगभग 3,000 करोड़ रुपये भाड़े के तौर पर मिलने की उम्मीद है, रेलगाड़ियों पर भारतीय रेलवे के चालक और गार्ड ही रखे जाएंगे.

राम मंदिर की बैठक LIVE : 5 अगस्त को भूमि पूजन सम्भव

रेलवे की योजना
निजी कंपनियों की यात्री रेलगाड़ियों के परिचालन की अनुमति देने की योजना का आगाज इस महीने की शुरुआत में देश भर के 109 जोड़ा रूटों पर 151 आधुनिक यात्री रेलगाड़ियां चलाने के लिए प्रस्ताव आमंत्रित कर किया जा चूका है.
2022-23 में 12 रेलगाड़ियां और इसके बाद वर्ष 2023-24 में 45, वर्ष 2025-26 में 50 और इसके अगले वित्त वर्ष में 44 रेलगाड़ियां शुरू करने की योजना है. वित्त वर्ष 2026-27 तक कुल 151 रेलगाड़ियां शुरू की जाएंगी.

जिस्मफरोशी रैकेट सरगना सोनू पंजाबन ने जेल में जहर खाया

आठ जुलाई को जारी किए गए योग्यता के लिए अनुरोध को नवंबर तक अंतिम रूप देने के बाद वित्तीय बोलियों को मार्च 2021 तक खोला जाएगा.
31 अप्रैल 2021 तक बोलीदाताओं का चयन किए जाने का अनुमान है.

Share.