website counter widget

Kulbhushan Jadhav Case : पाकिस्तान ने निकाली कुलभूषण जाधव पर अपनी भड़ास

0

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है| वह लगातार भारत में अशांति फैलाने की कोशिश कर रहा है (Kulbhushan Jadhav Case)| किसी ना किसी तरह से पाकिस्तान भारत को उकसाने का प्रयास कर रहा है| उसने अब अपनी भड़ास भारतीय नागरिक एवं नौसेना के पूर्व कुलभूषण जाधव को कॉन्सुलर एक्सेस न देने पर निकाली है|

कमलनाथ की कैबिनेट बैठक ख़त्म अहम प्रस्तावों को मिली मंजूरी

दरअसल, पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के फैसले के तहत दो सितंबर को कुलभूषण जाधव को पहली बार राजनयिक पहुंच प्रदान की, जिसके बाद उनसे इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने मुलाकात की थी (Kulbhushan Jadhav Case)| पाकिस्तान ने गुरुवार (12 सितंबर) को कुलभूषण जाधव को दूसरा कॉन्सुलर एक्सेस देने से मना कर दिया|

इस संबंध में पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने कहा कि, “कुलभूषण जाधव को दूसरा कॉन्सुलर एक्सेस नहीं दिया जाएगा|”

OMG : जोर से हंसना महिला को पड़ा भारी, मुंह में अटक गई जान

गौरतलब है कि, भारतीय नागरिक जाधव पाकिस्तान की जेल में बंद हैं और ‘जासूसी तथा आतंकवाद के जुर्म में’ पड़ोसी देश ने 2017 में उन्हें मौत की सजा सुनाई थी| उसके बाद भारत ने आईसीजे पहुंचकर उनकी मौत की सजा पर रोक लगाने की मांग की थी| पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने एक अगस्त को भी कहा था कि भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी को अगले दिन राजनयिक पहुंच दी जायेगी|

हालांकि, जाधव को राजनयिक पहुंच की शर्तों को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच मतभेदों के बीच दो अगस्त की अपराह्र तीन बजे प्रस्तावित यह बैठक नहीं हो सकी थी| आईसीजे ने 17 जुलाई को पाकिस्तान को जाधव को सुनाई गयी फांसी की सजा पर प्रभावी तरीके से पुन:विचार करने और राजनयिक पहुंच प्रदान करने का आदेश दिया था|

पाकिस्तान का दावा है कि उसके सुरक्षाबलों ने जाधव को तीन मार्च, 2016 को अशांत बलूचिस्तान प्रांत से गिरफ्तार किया था| उन पर ईरान से यहां आने के आरोप लगे थे| हालांकि, भारत का मानना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था जहां वह नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद कारोबार के सिलसिले में गए थे|

आतंकी गिरफ्तार, भारत पर बड़े हमले की कोशिश…

-Hriday Kumar

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.