मेजर गोगोई कोर्ट ऑफ इंक्वायरी में दोषी करार

0

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में भारतीय सेना के मेजर लीतुल गोगोई को होटल में एक युवती के साथ देखे जाने बाद मुश्किलें बढ़ गई है। सेना की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी ने मेजर गोगोई पर अनुशासनात्मक कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। गोगोई पर ड्यूटी के वक्त कहीं और होने और निर्देशों के खिलाफ जाकर स्थानीय लोगों से मेलजोल बढ़ाने का दोषी पाया गया है।

कोर्ट मार्शल का सामना

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कोर्ट ऑफ इंक्वायरी की अनुशंसा के बाद मेजर गोगोई को कोर्ट मार्शल का सामना करना पड़ा सकता है। कोर्ट ऑफ इंक्वायरी ने पाया है कि मेजर ने एक संघर्ष वाले क्षेत्र में स्थानीय महिला से संबंध बनाकर सेना के नियम का उल्लंघन किया और ड्यूटी के स्थान से दूर रहकर मानक संचालक प्रक्रिया का उल्लंघन किया है।

होटल में लड़की के साथ

गौरतलब है कि इसी साल 23 मई को मेजर लीतुल गोगोई श्रीनगर के होटल में ग्रैंड ममता में एक लड़की के साथ हिरासत में लिए गए थे। मेजर गोगोई लड़की के बाद होटल में रहना चाहते थे। इस बात को लेकर विवाद हुआ और होटल प्रबंधन ने पुलिस बुला ली थी। पुलिस ने मेजर और लड़की को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया था।

सज़ा ऐसी जो उदाहरण बन जाए

बता दें कि मेजर लीतुल गोगोई के होटल में पकड़े जाने के बाद आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि अगर मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि उन्हें सज़ा ज़रूर मिलेगी। सज़ा भी ऐसी होगी, जो उदाहरण बन जाएगा। मेजर लीतुल गोगोई उस वक्त सुर्खियों में आए थे, जब श्रीनगर में सेना के वाहन पर एक व्यक्ति को बांधकर ले जाने का उनका वीडियो सामने आया था। इस वाहन का इस्तेमाल पत्थरबाजों से बचने के लिए मानव ढाल के तौर पर किया गया था।

Share.