बांग्लादेश राम मंदिर निर्माण के खिलाफ, जानिए एतराज की वजह

0

दशकों के लम्बे इन्तजार के बाद अयोध्या (Ayodhya) में भगवान श्रीराम (Sri Ram Temple Construction) के मंदिर निर्माण की तिथियाँ निकट आ गई है . लेकिन अब इस पर देश के बहार से आपत्तियां आ रही है. बांग्लादेश को राम मंदिर निर्माण से एतराज है और इस बारें में वहां के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन (Bangladesh foreign minister AK Abdul Momen) ने कहा कि भारत को ऐसे कदम से बचना चाहिए, जिससे उसके पड़ोसी देशों के साथ ऐतिहासिक गठबंधन को धक्का पहुंच सकता है.

फ्रांस से भरी राफेल ने उड़ान, 29 जुलाई को सेना के बेड़े में शामिल

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से पहले बोला बांग्लादेश- भारत रिश्ते खराब करने वाली गतिविधियां रोके

पांच अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर का शिलान्यास होने की खबर पर बांग्लादेश के राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के विपक्षियों को यह एक राजनीतिक अवसर प्रदान करेगा. बांग्लादेश के विदेश मंत्री मोमेन ने मंदिर निर्माण को लेकर कहा कि दोनों ही देश आपसी रिश्तों को बर्बाद नहीं होने देना चाहेंगे. यही वजह है कि भारत को किसी भी ऐसे डेवलपमेंट से बचना चाहिए, जिससे बांग्लादेश के साथ ​रिश्तों में दरार पैदा कर दे.

कोरोना से बेहाल बिहार के पांच सौ गाँव में बाढ़

Sheikh Hasina to hold bilateral discussions with PM Modi today ...

मोमेन के बयां पर द हिंदु अखबार ने लिखा है कि हम इसका आपसी संबंधों पर असर नहीं पड़ने देंगे, हालांकि हम यह भी अनुरोध करते हैं कि भारत ऐसी किसी भी गतिविधि को रोके जो हमारे बीच के सुंदर और गहरे रिश्तों में कोई दरार पैदा करने वाली हों. दोनों ही देशों को इस बात का ख्याल रखना जरूरी है और मैं यह कहना चाहता हूं कि दोनों ही देशों को इस दिशा में पहल करनी चाहिए ताकि किसी तरह के व्यवधान को रोका जा सके. मोमेन ने कहा कि दोनों देशों का यह दायित्व है कि समाज के सभी वर्गों पर एक अच्छे रिश्ते को बढ़ावा देना और यह सुनिश्चित करना था कि संबंधों को बरकरार रखा जाए, क्योंकि अकेले सरकार ऐसे मामलों पहल नहीं कर सकती. 

चीन के सरकारी शोध संस्थान के 90 परमाणु वैज्ञानिकों ने दिया अचानक इस्तीफा

बड़ा खुलासा: पाकिस्तान ने 30 लाख ...

यह हो सकती है असली वजह 

विदेश मंत्री मोमेन प्रधानमंत्री शेख हसीना और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पिछले सप्ताह टे​लीफोन पर किसी तरह की बातचीत से साफ़ इनकार कर गए जबकि खबर है की इन दिनों पाक और बांग्लादेश चीन के इशारों पर एक दुसरे के करीब आ रहा है . इसे में राम मंदिर पर बेवजह की आपत्ति को इससे जोड़ कर देखा जा रहा है

 

Share.