”मैं आत्महत्या कर रहा हूं”

0

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में आई मॉनेटरी एडवाइजरी (IMA) ज्वेल्स के शिवाजीनगर ऑफिस के बाहर कंपनी के 4,000 से ज्यादा निवेशकों ने मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया | इसी बीच कंपनी के लापता मैनेजिंग डायेरक्ट मोहम्मद मंसूर खान (Md Mansur Khan ) का कथित ऑडियो सामने आया है, जिसमें खान को कहते सुना जा सकता है कि कंपनी को भारी वित्तीय घाटा हुआ है और इस कारण वह आत्महत्या कर रहा है|

VIDEO : समीक्षा बैठक में आपस में भिड़े कांग्रेसी नेता

ऑडियो क्लिप पुलिस कमिश्नर के नाम पर रिकॉर्ड की गई है| क्लिप में उसने कहा है कि वह भ्रष्ट राजनेताओं और अधिकारियों को रिश्वत दे-देकर थक गया है| उन्होंने ऑडियो में कांग्रेस के विधायक रोशन बेग पर भी आरोप लगाए हैं| खान ने कहा है कि बेग ने उनसे 400 करोड़ रुपये लिए थे| लेकिन लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने के बाद उन्होंने पैसे नहीं लौटाए|

ऑडियो क्लिप में खान (Md Mansur Khan) ने कहा कि मैंने कंपनी को बनाने के लिए 12-13 साल काम किया है| स्टेट और सेंट्रल लेवल पर भ्रष्टाचार है| हमने नेताओं और अफसरों को रिश्वत दिए हैं| रोशन बेग ने मेरे पैसे नहीं लौटाए, लेकिन मेरे घर और स्टोर पर कुछ गुंडे भेज दिए| मेरी जान को खतरा है| जान बचाने के लिए अपने परिवार के साथ कुछ गांव में छिपे हैं|

ऑडियो क्लिप में उन्होंने दक्षिण बेंगलुरु में छिपे होने का संकेत दिया| उनके मुताबिक, जब तक मेरा ऑडियो जनता तक पहुंचेगी मैं जिंदा नहीं रह पाऊं| पुलिस मेरी 500 करोड़ रुपये की संपत्ति बेचकर निवेशकों को चुका दे| IMA में हजारों निवेशकों ने लाखों निवेश किए हैं| ऑटो चालक बशीर अहमद ने अपना सब कुछ बेचकर आईएमए में 5 लाख रुपये निवेश किए थे| कंपनी ने 3 फीसदी प्रॉफिट देने का वादा किया था|

Video : पाकिस्तानी विज्ञापन में दिखे विंग कमांडर अभिनंदन

उनके (Md Mansur Khan) मुताबिक, शुरुआत में हर महीने पैसे मिले, लेकिन पिछले कुछ महीने से उन्हें कुछ नहीं मिला है| शोरूम के रेगुलर ग्राहक 35 वर्षीय सैयद ने कहा कि उन्होंने अपने तीन दोस्तों को भी कंपनी में निवेश करने में मदद की है| 42 वर्षीय विधवा नूर खुटेजा रोती हुई बोली, मैंने बेटी की शादी के लिए जमा किए हुए 2.5 लाख रुपये निवेश की थी|

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी( H D Kumarswami)  ने कहा है कि आईएमए के मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है| सरकार निवेशकों की स्थिति समझती है| इस मुद्दे पर गृह मंत्री एम बी पाटिल से भी बात की है\ यह मामला सेंट्रल क्राइम ब्रांच (सीसीबी) को सौंप दिया गया है| दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी|

9 दिन बाद मिला लापता AN-32 विमान का मलबा

Share.