यहां मनाएं क्रिसमस, जानें हेरिटेज ट्रेन का किराया

0

इस समय क्रिसमस के कारण स्कूलों और कई कार्यालयों में छुट्टियां घोषित की जा चुकी हैं| इन छुट्टियों में यदि आप पूरे परिवार के साथ कहीं घूमने का मन बना रहे हैं तो आपके लिए इंदौर के पास पातालपानी (Patalpani Waterfall) से बेहतर जगह नहीं हो सकती है| यहां के सफर के लिए एक ख़ास ‘हेरिटेज ट्रेन (Heritage Train ) ’ की शुरुआत भी की जा चुकी है| इंदौर के नज़दीक पातालपानी-कालाकुंड(Patalpani Kalakund) के बीच 25 दिसंबर से हेरिटेज ट्रेन का सफ़र शुरू होगा|

Best Tourism Place In Indore : सुकून का जरिया : हेरिटेज ट्रेन

पातालपानी(Patalpani Waterfall) की हरियाली, कोहरे की धुंध और झरनों का संगीत आपको मंत्रमुग्ध कर देगा| प्रकृति की इसी सुंदरता को दिखाने के लिए ही ख़ास हेरिटेज ट्रेन को शुरू किया गया है| 25 दिसंबर यानी क्रिसमस से पातालपानी-कालाकुंड(Patalpani Kalakund ) स्टेशन के लिए पर्यटन स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है| पिछले तीन महीने से हेरिटेज ट्रेन को लेकर तैयारी चल रही थी|

हेरिटेज ट्रेन के लिए रेलवे ने जो समय तय किया था, उसी समय में ट्रेन चलाई जाएगी| ट्रेन जहां-जहां रुकेगी, वहां-वहां आकर्षक चित्रकारी की गई है| यहां पर ऐतिहासिक दृश्य दीवारों बनाए गए हैं| ये सभी कलाकृतियां आप सभी को यहां आने के लिए मजबूर कर देंगी|

किस समय चलेगी हेरिटेज ट्रेन?हेरिटेज ट्रेन का किराया कितना है?

पर्यटकों के लिए ख़ास व्यवस्था

कालाकुंड (Kalakund) में पर्यटकों के ठहरने के लिए दो कोच तैयार किए गए हैं| एक कोच में दो लग्ज़री बेडरूम हैं तो एक कोच में 16 बेड की डोरमेट्री है| एक बेडरूम का किराया 750/- रुपए तो डोरमेट्री में 100/- रुपए देकर रातभर रुक सकेंगे|  कालाकुंड स्टेशन के पीछे पर्यटकों के लिए बोट क्लब भी बन रहा है| इसके लिए चोरल नदी पर बने डैम के पानी को रोका जा रहा है| इसमें सात बोट रहेंगी| यह स्टेशन रतलाम मंडल का पहला ऐसा हेरिटेज स्टेशन है, जहां पर बच्चों के लिए पार्क भी तैयार किया है|

कालाकुंड स्टेशन के आसपास के पहाड़ी क्षेत्रों में पर्यटकों के लिए रॉक क्लाइंबिंग भी शुरू करने की योजना है, लेकिन इस क्षेत्र में जंगली जानवरों का भय है| ऐसे में संभवत: रेल प्रशासन रॉक क्लाइंबिंग यहां पर शुरू नहीं कर पाएगा|

सुरक्षा के भी इंतज़ाम (Patalpani Kalakund )

पातालपानी (Patalpani Waterfall) में पहले कई हादसे हो चुके हैं| इस वजह से यहां पर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है| रेलवे यहां पर विशेष व्यवस्था करेगा| रेलवे कर्मचारी यहां पर तैनात रहेंगे और पर्यटकों पर नज़र रखेंगे| अधिकारियों का कहना है कि लापरवाही व सेल्फी दुर्घटना का मुख्य कारण है| ऐसे में यहां आने वाले पर्यटकों पर ध्यान देना ज़रूरी है| सेल्फी पर रोक नहीं है, लेकिन जहां दुर्घटना होने का अंदेशा है, वहां से लोगों को दूर रखा जाएगा|

Best Tourism Place In Indore: खजराना मंदिर

खूबसूरत प्राकृतिक नजारों के लिए प्रसिद्ध अल्मोड़ा

बेहद खूबसूरत है भारत का स्विट्ज़रलैंड

Share.