Hathras Gang Rape Story : अब तक की पूरी घटना, पुलिस का चेहरा सामने आया

0

Hathras Gang Rape Story : देश की एक और बेटी दरिंदों की हवस का शिकार हो गई पुलिस प्रशासन और सरकारें देखते रही.गैंगरेप का शिकार कोई बेटी की मौत पर भी फिलहाल उत्तर प्रदेश पुलिस मौन है. पुलिस खुद अब कठघरे में है. हाथरस की निर्भया के लिए पूरा देश इंसाफ की मांग कर रहा है और हर किसी ने इस मामले के प्रति आक्रोश बढ़ गया है और उत्तर प्रदेश पुलिसखुद का दामन बचाने के लिए उल्टे सीधे बयान देती जा रही है. हाथरस की निर्भया का के सवाल पूरे देश से है की बेटियां कब महफूज हो सकेंगी. कब तक देश की बेटी न्याय मांगती रहेगी.

Hathras Gang Rape Case Victim Told The Investigation Officer The Whole Story - Hathras Case: लडख़ड़ाती जुबां और इशारों से बिटिया बता पाई दरिंदगी की दास्तां, क्रूरता की सारी हदें ...

मी टू बोलो और पुलिस साथ ले लो

Hathras Gang Rape Story :

हां पीड़ित परिवार और पुलिसवालों के बयान आपस में मेल नहीं खा रहे हैं रहे .

सबसे विवाद खड़ा हुआ है पीड़ित के अंतिम संस्कार पर. पुलिस की मौजूदगी में गांववालों के गुस्से के बीच रात करीब ढाई बजे पीड़ित का अंतिम संस्कार कर दिया गया लेकिन घरवारों का आरोप है कि ये अंतिम संस्कार उनकी अनुमति के बगैर हुआ है.

पुलिस और परिजनों के बीच सवाल जवाब इस तरह से है

परिवार: पुलिस -14 सितंबर को गैंगरेप हुआ.
पुलिस: रेप की पुष्टि अब तक नहीं.

परिवार: आरोपियों ने पीड़िता की रीढ़ की हड्डी तोड़ी
पुलिस: गला दबाने से रीढ़ की हड्डी पर असर.

परिवार: पीड़ित की जीभ भी काट दी
पुलिस: गला दबाने से जीभ पर चोट के निशान.

महिलाओं के लिए मी टू ट्रेंड में

परिवार: रेप, गला घोंटा गया, मारपीट की गई.
पुलिस: जांच रिपोर्ट आना अभी बाकी

परिवार: परिवार ने 4 लोगों पर आरोप लगाया.
पुलिस: चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं.

परिवार: पुलिस ने बिना बताए अंतिम संस्कार किया.
पुलिस: पुलिस ने अब तक कोई सफाई नही दी

हाथरस की घटना पर प्रधानमंत्री मोदी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से बातचीत की है

पुलिस से सवाल

बड़ी बात ये है कि पुलिस अभी तक गैंगरेप के आरोपों को पुख्ता नहीं मान रही है.

हाथरस की निर्भया मौन हो गई लेकिन उसकी चीख पूरे देश से सवाल पूछ रही है कि देश की बेटियां कब महफूज हो सकेंगी.

बिकाऊ मीडिया के टिकाऊ मुद्दे

Share.