अनाज की जगह दिया जाएगा..

0

मध्यप्रदेश में सब्सिडी देने का नया फ़ॉर्मूला तैयार किया जा रहा है, जिसके अंतर्गत हितग्राहियों को राशन के बजाय नकद दिया जाएगा| रियायती दर पर मिलने वाला राशन जैसे गेहूं, चावल और नमक के स्थान पर अब सब्सिडी की राशि सीधे खाते में जमा कराई जाएगी|

बताया जा रहा है कि यह योजना सबसे पहले रायसेन के औबेदुल्लागंज और होशंगाबाद के सोहागपुर में लागू की जाएगी| इसके लिए खाद्य, नागरिक और आपूर्ति विभाग ने केंद्र सरकार से अनुमति मांगी है| इस योजना पर विचार करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने खाद्य विभाग की समीक्षा के दौरान योजना पर विचार करने के आदेश दिए थे|

सब्सिडी नहीं मिलने के कारण सरकार को कई शिकायतें मिल रही थी, जिसके बाद यह फैसला लिया गया है कि अब सभी हितग्राहियों को आधार से अपना अकाउंट लिंक करवाना अनिवार्य होगा| मुख्यमंत्री ने भी माना कि सब्सिडी की योजनाएं प्रदेश में सुचारू रूप से नहीं चल पाईं|

मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, हितग्राही को गेहूं के लिए 16 से 17 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से खाते में दिए जाएंगे| इसी तरह चावल के करीब 21 से 22 रुपए प्रति किलोग्राम मिलेंगे| गौरतलब है कि अभी 2 रुपए किलोग्राम में गेहूं और 3 रुपए किलोग्राम के हिसाब से चावल मिलता है| इसमें सरकार अन्न्पूर्णा योजना के जरिए अपने खजाने से राशि लगाकर अनाज एक-एक रुपए किलोग्राम में देती है|

Share.