Wow : अब यहां आधार कार्ड की ज़रूरत नहीं

0

देश में आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर नए-नए बदलाव किए जा रहे हैं। आधार की अनिवार्यता को लेकर केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट और भारतीय टेलिग्राफ एक्ट में संशोधन कर इस नियम को शामिल किया है। सोमवार 17 दिसंबर को केंद्रीय कैबिनेट ने इस संशोधन के लिए मंजूरी दी थी। इस नियम के अंतर्गत अब लोगों को बैंक में खाता खुलवाने या फिर नया सिम कार्ड लेने के लिए आधार कार्ड देना ज़रूरी नहीं होगा।

आधार के बिना बनेगा तत्काल पासपोर्ट

इस नियम के बाद उपभोक्ता यदि चाहें तो आधार कार्ड दिखा सकता है, लेकिन इसके लिए बैंक या टेलिकॉम कम्पनी दबाव नहीं बना सकती। अगर किसी बैंक या टेलिकॉम कम्पनी द्वारा आधार कार्ड के लिए दबाव बनाया जाता है तो ऐसे में उन्हें, नियम का उल्लंघन करने के लिए 1 करोड़ रुपए तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है। सरकार का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मद्देनज़र या कदम उठाया गया है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि आधार कार्ड सिर्फ और सिर्फ वेलफेयर स्कीमों के लिए ही अनिवार्य किया जाना चाहिए।

टेलीकॉम कंपनियों को नसीहत, मोबाइल कनेक्शन के लिए बंद हो आधार

यदि कोई भी कम्पनी इस नियम का उल्लंघन करती है तो ऐसा करने वाली कंपनी को ही नहीं बल्कि उसके कर्मचारियों को भी दण्डित किया जाएगा।  ऐसा करने वाली कम्पनी के कर्मचारियों को 3 से 10 साल तक की सज़ा हो सकती है।

आधार कार्ड से लिंक हो रहे बिजली खाते

 

Share.