जल्द बंद होने वाली है ‘गरीब रथ’, अब चलेगी ‘हमसफर’…

0

रेलवे ने कम किराये में एसी कोच में सफर कराने वाली ट्रेन ‘गरीब रथ’ को बंद करने का फैसला किया है। इसकी जगह नई प्रीमियम ट्रेन ‘हमसफर एक्सप्रेस’ लेगी। रेलवे के इस फैसले से गरीब रथ से यात्रा करने वालों की जेब पर भारी नुकसान होगा। सबसे पहले दिल्ली-चेन्नई रूट पर चलने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस बंद होने वाली है। इसके बाद दिल्ली-चेन्नई के बाद अन्य रूटों पर चलने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस का परिचालन भी बंद होगा। रेलवे बोर्ड ने दक्षिण भारत और नॉर्दर्न जोन कार्यालयों को आदेश भी दे दिया कि वे 20 सितंबर से गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेनों की बुकिंग बंद कर दें।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गरीब रथ के कोच पुराने हो चुके हैं। अब इनकी मरम्मत नहीं हो सकती इसलिए गरीब रथ को हटाकर अत्याधुनिक सुविधाओं वाली नई प्रीमियम ट्रेन हमसफर एक्सप्रेस को चलाया जाएगा। रेलवे के अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि दिल्ली-चेन्नई रूट पर चलने वाली हमसफर एक्सप्रेस में यात्रा करने वाले मुसाफिरों से गरीब रथ का किराया ही लिया जाएगा। दिसंबर के बाद से यात्रियों को हमसफर एक्सप्रेस का किराया देना होगा।

यात्रियों को नुकसान

गरीब रथ के बंद होने से यात्रियों को काफी परेशानी है क्योंकि गरीब रथ से हमसफर एक्सप्रेस का किराया लगभग दोगुना है। इस ट्रे में रेलवे का फ्लेक्सी फेयर सिस्टम लागू है यानी ट्रेन की 50 फीसदी सीटें बुक होने के बाद अतिरिक्त सीटों की बुकिंग पर 10 प्रतिशत के हिसाब से किराया बढ़ता रहता है। गरीब रथ की जगह हमसफर एक्सप्रेस में सफर करने पर यात्री को लगभग एक हजार रुपए की जगह दो हजार रुपए किराए के लिए चुकाने होंगे। यदि कोई यात्री फ्लेक्सी फेयर सिस्टम के तहत टिकट बुकिंग करता है तो उसे और ज्यादा पैसे चुकाने होंगे।

लालू ने चलाई थी गरीब रथ

तत्कालीन रेलमंत्री लालूप्रसाद यादव ने वर्ष 2006 में गरीब रथ एक्सप्रेस का परिचालन शुरू करवाया था। शुरुआत में राजेंद्रनगर से हजरत निजामुद्दीन के बीच चलती थी। इसके बाद इसे आनंद विहार से कर दिया गया। उस वक्त ट्रेन मध्य रेल के अधीन थी।

Share.