ब्रह्मपुत्र नदी में उफान के कारण भारत में बाढ़ का खतरा

0

चीन ने भारत को बाढ़ के खतरे को लेकर सतर्क रहने को कहा है। चीन ने एक सूचना जारी करते हुए कहा है कि अपने इलाकों में भारी बारिश की वजह से वह सांगपो नदी में पानी छोड़ सकता है। चीन में सांगपो के नाम से जाने वाली नदी को अरुणाचल प्रदेश में सियांग और असम में ब्रह्मपुत्र नदी कहा जाता है। यह तिब्बत से होकर अरुणाचल प्रदेश के रास्ते भारत में आती है और बंगाल की खाड़ी में गिरती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारियों को कहा गया है कि चीन से पानी छोड़े जाने से ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे बसे असम और अरुणाचल प्रदेश जैसे राज्य बाढ़ की चपेट में आ सकते हैं।

चीन में भारी बारिश के कारण सांगपो नदी में उफान के बाद बीजिंग ने भारत सरकार को अलर्ट जारी किया है। चीन की सांगपो नदी उफान पर है और उसने 40 वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रह्मपुत्र नदी में 9020 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है, जिसके बाद चीन ने बाढ़ को लेकर भारत सरकार को सतर्क किया है। चीन ने साफ तौर पर कहा है कि वह आगे और भी पानी छोड़ सकता है।

बता दें कि चीन और भारत में एक समझौता हुआ था, जिसमें दोनों देशों में ब्रह्मपुत्र नदी के जलस्तर से जुड़ी सूचनाएं साझा करने को लेकर सहमति बनी थी, लेकिन पिछले एक वर्ष से चीन ने यह बंद कर दिया था। चीन ने कहा था कि ब्योरा एकत्रित करने वाली साइट्स बाढ़ की वजह से ध्वस्त हो गई हैं। इसके बाद मार्च में चीन ने फिर से शुरू करने को लेकर भारत सरकार को इसकी जानकारी दी थी। वहीं दोनों देशों के बीच सतलुज नदी से संबंधित ब्योरे को लेकर भी सहमति बनी है।

Share.