6 फरवरी को चक्का जाम पर राकेश टिकैत का बड़ा बयान

0

किसान आंदोलन प्रमुख चेहरा बन चुके भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष राकेश टिकैत का कहना है कि सरकार चाहती है कि दबाव में आंदोलन खत्म हो जाएगा, तो वैसा नहीं होगा. बातचीत से ही आंदोलन खत्म होगा, हम अपने मुद्दों पर अड़े हुए हैं. दिल्ली में घुसने का हमारा अब कोई प्लान नहीं है.

6 फरवरी के चक्के जाम को लेकर राकेश टिकैत ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर के पास ऐसा कुछ नहीं होगा. किसान अपनी-अपनी जगहों पर सड़क बंद करेंगे और प्रशासन को ज्ञापन सौंपेंगे. दिल्ली की सीमाओं पर लगी बैरिकेडिंग और कीलों पर राकेश टिकैत ने कहा कि हम तो दिल्ली जा ही नहीं रहे हैं.
गणतंत्र दिवस के दिन निकली ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर राकेश टिकैत ने कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए, हमारा किसान किसी पर हमला नहीं कर सकता है. पुलिसवाले हमारे परिवार के ही हैं, लेकिन अगर किसी ने लालकिले आने का ऐलान पहले ही कर दिया तो फिर उसे कैसे आने दिया गया. पूरे प्रकरण की जांच की जानी चाहिए.

राकेश टिकैत ने कहा कि हम लंबे वक्त से आंदोलन कर रहे हैं, हर कोई कहता है कि संसद जाएंगे लेकिन कोई जाता नहीं है. लालकिले पर जो गया, तो उन्हें किसने रास्ता क्यों दिया गया. राकेश टिकैत ने कहा कि लालकिले पर धार्मिक झंडा फहराने की साजिश रची गई, ताकि किसान-सिखों को बदनाम किया जा सके.

Share.